कोविड-19 पर कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बोले: केवल भगवान ही हमें बचा सकते हैं, बाद में दी सफाई

कोविड-19 पर कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बोले: केवल भगवान ही हमें बचा सकते हैं, बाद में दी सफाई
कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बी. श्रीरामुलु ने अपने बयान पर सफाई दी है (File Photo)

कर्नाटक सरकार (Karnataka Government) के कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने में विफल रहने के कांग्रेस (Congress) के आरोपों के बाद स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु (Health Minister B Shriramulu) ने कहा है कि राज्य को केवल भगवान ही बचा सकते हैं.

  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) में कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में लगातार हो रही वृद्धि के बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु (Health Minister B Shriramulu) ने कहा है कि राज्य को केवल भगवान ही बचा सकते हैं. उन्होंने कहा कि महामारी (Pandemic) को फैलने से रोकने के लिए जनता का सहयोग आवश्यक है. राज्य सरकार के कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने में विफल रहने के कांग्रेस (Congress) के आरोपों के बाद चित्रदुर्ग (Chitradurga) में बुधवार को मंत्री ने यह बयान दिया. मंत्री ने बाद में कहा कि मीडिया के एक वर्ग ने उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया.

इस संदर्भ में श्रीरामुलु ने गुरुवार ट्वीट कर जवाब दिया. स्वास्थ्य मंत्री ने लिखा- "यह मेरे शब्दों के बारे में एक स्पष्टीकरण है जिसे गलत तरीके से समझा गया है. विपक्ष के दावों का जवाब देते हुए कि सरकार की लापरवाही, गैर-जिम्मेदारी और मंत्रियों के बीच समन्वय की कमी राज्य में मामलों के बढ़ने के लिए जिम्मेदार है, मैंने कहा कि 'ये आरोप सच्चाई से दूर हैं. वायरस के प्रसार से बचने के लिए लोगों को जागरूक और सतर्क रहने की जरूरत है. यह महामारी को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है."

ये भी पढ़ें- कोरोना वायरस की चपेट में आसानी से कैसे जा जाते हैं कुछ लोग,शोधकर्ताओं ने बताया



उन्होंने आगे लिखा कि "अगर हम इस महत्वपूर्ण कदम पर विफल हो जाते हैं, तो स्थिति जटिल हो सकती है. और अगर चीजें खराब हो जाती हैं, तो केवल भगवान ही हमें बचा सकते हैं. ये शब्द सावधानी से इस्तेमाल किए गए शब्द थे. जनता में घबराहट पैदा करने की कोई जरूरत नहीं है." एक और ट्वीट में श्रीरामुलु ने कहा "मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली हमारी सरकार चौबीसों घंटे काम कर रही है. यह पूरी दुनिया के लिए एक कठिन स्थिति है और हम सभी अपने राज्य के लोगों के लिए इस महामारी के खिलाफ लड़ाई जीतने की पूरी कोशिश कर रहे हैं."



स्वास्थ्य मंत्री ने दिया था ये बयान
श्रीरामुलु ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा था, “बताइये यह (महामारी को नियंत्रित करने का) किसका काम है. केवल भगवान ही हमें बचा सकते हैं. लोगों के बीच जागरूकता पैदा करना ही एकमात्र उपाय है. ऐसी स्थिति में, कांग्रेस के नेता राजनीति के सबसे निचले स्तर पर पहुंच चुके हैं. यह किसी के लिए ठीक नहीं है.” श्रीरामुलु, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डी के शिवकुमार (DK Shivakumar) और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया (Siddaramaiah) के आरोपों का जवाब दे रहे थे जिसमें कहा गया था कि श्रीरामुलु और चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ के सुधाकर के बीच तालमेल न होने से राज्य सरकार कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में विफल रही है.

श्रीरामुलु ने मीडिया पर गलत मतलब निकालने का लगाया आरोप
कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि महामारी देश में तेजी से फैल रही है और अगले दो महीने अत्यधिक सतर्कता बरतने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि महामारी सत्ताधारी दल और विपक्षी दल के सदस्यों में भेदभाव नहीं करती. श्रीरामुलु ने बुधवार को दिए अपने बयान पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि उनका मंतव्य यह था कि जब तक कोविड-19 का टीका नहीं बन जाता तब तक भगवान ही हमारी रक्षा कर सकते हैं.

स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार देर रात को एक वीडियो संदेश में कहा, “मैंने कहा था कि लोगों के सहयोग के अलावा भगवान को भी हमारी रक्षा करनी चाहिए लेकिन मीडिया के एक वर्ग ने इसका यह अर्थ निकाला कि श्रीरामुलु कोरोना वायरस फैलने को लेकर असहाय हो चुके हैं.” उन्होंने कहा, “यह कहने के पीछे मेरा मंतव्य था कि जब तक टीका नहीं आ जाता, भगवान ही हमें बचा सकते हैं. इसे गलत तरीके से पेश नहीं किया जाना चाहिए.”
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading