लाइव टीवी

महाराष्ट्र: बीजेपी के इनकार के बाद कांग्रेस में गतिविधियां तेज, आलाकमान के आदेश का इंतजार

News18Hindi
Updated: November 11, 2019, 7:07 AM IST
महाराष्ट्र: बीजेपी के इनकार के बाद कांग्रेस में गतिविधियां तेज, आलाकमान के आदेश का इंतजार
महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायकों ने शिवसेना को समर्थन देने का फैसला किया है

महाराष्ट्र (Maharashtra) में किसकी सरकार बनने जा रही है इसको लेकर अभी सूरत साफ नहीं हो सकी है. सूत्रों के मुताबिक राज्यपाल की ओर से शिवसेना (Shivsena) को न्योता मिलने के बाद उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और शरद पवार (Sharad Pawar) ने फोन पर बातचीत की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2019, 7:07 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में रविवार रात को भाजपा (BJP) द्वारा सरकार बनाने से इनकार करने और शिवसेना (Shiv sena) द्वारा राज्य में अपने मुख्यमंत्री का दावा करने के बाद कांग्रेस (Congress) में गतिविधियां तेज हो गई हैं. कांग्रेस के सूत्रों ने बताया कि महाराष्ट्र के सभी कांग्रेस विधायक रविवार को जयपुर (Jaipur) पहुंच गए हैं और शिवसेना के नेतृत्व में सरकार गठन की संभावना पर चर्चा कर रहे हैं. पार्टी के वरिष्ठ नेता भी बैठक में भाग ले रहे हैं.

पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के भी जयपुर पहुंचने की संभावना है. बैठक के बाद, कांग्रेस नेताओं के दिल्ली में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने की संभावना है. सूत्रों ने बताया कि राकांपा प्रमुख शरद पवार सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं.

हालांकि, महाराष्ट्र में पवार के नेतृत्व वाली पार्टी ने कहा कि शिवसेना को पहले भाजपा-नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से बाहर निकलना होगा, फिर उसको समर्थन देने पर कोई चर्चा होगी. इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि पार्टी के नव-निर्वाचित विधायक राज्य में राजनीतिक रूख को लेकर आलाकमान से सलाह लेंगे.

उन्होंने कहा, ‘हम जयपुर में हैं. हम मुद्दे पर यहां चर्चा करेंगे और भविष्य के राजनीतिक रूख पर सलाह लेंगे. पार्टी राज्य में राष्ट्रपति शासन नहीं चाहती है.’ चव्हाण ने कहा कि वह महाराष्ट्र में सरकार बनाने के पक्ष में हैं.

राज्य की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा
इससे पहले, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात कर राज्य की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की. अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण और बालासाहेब थोराट जैसे वरिष्ठ नेताओं सहित सभी 44 विधायक महाराष्ट्र में सरकार बनाने के गतिरोध के मद्देनजर खरीद फरोख्त का शिकार होने के डर से कांग्रेस शासित राजस्थान की राजधानी जयपुर के एक रिसॉर्ट में ठहरे हैं.

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने विधानसभा चुनाव में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी शिवसेना को सरकार बनाने का रविवार को न्योता दिया. सरकार बनाने से भाजपा के इनकार करने के कुछ घंटे बाद राज्यपाल ने यह कदम उठाया.
Loading...

राजभवन के एक अधिकारी ने बताया, ‘शिवसेना को सरकार बनाने पर सोमवार (11 नवंबर) शाम साढ़े सात बजे तक अपने रुख से राज्यपाल को अवगत कराना होगा.’ राज्य में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में 288 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 105, शिवसेना को 56 सीटों पर जीत मिली. वहीं, विपक्षी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को क्रमश: 44 और 54 सीटों पर जीत मिली है.

ये भी पढ़ें- शिवसेना ने हिटलर से की फडणवीस सरकार की तुलना, बोली- महत्वपूर्ण होगी पवार की भूमिका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 10, 2019, 8:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...