Home /News /nation /

भाई के बाद एक और रिश्तेदार हुए मुख्यमंत्री चन्नी से नाराज, जानिए कौन हैं वे, क्यों नाराज और अब क्या करने वाले हैं?

भाई के बाद एक और रिश्तेदार हुए मुख्यमंत्री चन्नी से नाराज, जानिए कौन हैं वे, क्यों नाराज और अब क्या करने वाले हैं?

चरणजीत सिंह चन्‍नी, पंजाब के मुख्यमंत्री. (File pic)

चरणजीत सिंह चन्‍नी, पंजाब के मुख्यमंत्री. (File pic)

Punjab Assembly Election-2022 :  मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. पहले उनके छोटे भाई डॉ मनोहर सिंह (Dr Manohar Singh) ने कांग्रेस के खिलाफ बगावत का झंडा उठा लिया. अब उनके एक और करीबी रिश्तेदार नाराज हो गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. पंजाब के विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Election-2022) नजदीक आते-आते राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. पहले उनके छोटे भाई डॉ मनोहर सिंह (Dr Manohar Singh) ने कांग्रेस के खिलाफ बगावत का झंडा उठा लिया. अब उनके एक और करीबी रिश्तेदार नाराज हो गए हैं.

पंजाब कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष, तीन बार विधायक रहे पूर्व मंत्री मोहिंदर सिंह केपी (former minister Mohinder Singh KP) ने टिकट न मिलने पर कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मोहिंदर सिंह केपी (Mohinder Singh KP) कहा है कि वह निश्चित रूप से चुनाव लड़ेंगे. हालांकि अभी यह तय करना है कि किस सीट से चुनाव लड़ा जाए. चुनाव लड़ने का फैसला समर्थकों की सलाह लेने के बाद लिया जाएगा.

केपी, मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) के रिश्तेदार हैं. उनकी उम्मीदवारी का भी उन्होंने पुरजोर समर्थन किया था. उन्होंने कहा, ‘मेरे पिता दर्शन सिंह केपी के समय से हमारे परिवार ने 1967 से सभी विधानसभा चुनाव लड़े हैं. मुझे इसमें कोई विराम नहीं चाहिए.’ बताया जाता कि केपी ने आज, सोमवार को सुबह 11 बजे अपने समर्थक कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई है. इसमें वे आगे का फैसला कर सकते हैं.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) के भाई डॉक्टर मनोहर सिंह (Dr Manohar Singh) ने हाल ही हमें कांग्रेस से बगावत की है. राजनीति में आने के लिए वह सरकारी नौकरी छोड़ चुके हैं. उन्होंने बस्सी पठाना निर्वाचन क्षेत्र (Bassi Pathana Assembly Seat) से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ने का फैसला किया है. इस सीट से कांग्रेस (Congress) ने मौजूदा विधायक गुरप्रीत सिंह जीपी को टिकट दिया है.

क्यों नाराज हुए केपी

कांग्रेस में कुछ समय पहले ही शामिल हुए सुखविंदर सिंह कोटली को आदमपुर से टिकट दिया गया है. यहां से 2017 के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में केपी उम्मीदवार थे, जो शिरोमणि अकाली दल (SAD) के पवन कुमार टीनू से हार गए थे. इस बार केपी अपने मूल निर्वाचन क्षेत्र जालंधर पश्चिम से टिकट की मांग कर रहे थे. लेकिन कांग्रेस वहां से मौजूदा विधायक सुशील रिंकू को ही टिकट दे रही है. बस इसी से केपी ने बगावत का रास्ता चुन लिया.

Tags: Assembly Elections 2022, Charanjit Singh Chhani, CM Punjab, Punjab

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर