लाइव टीवी
Elec-widget

बैंक से नहीं मिला लोन तो बंदूक लेकर मैनेजर के दफ्तर में घुसा शख्स, की मारपीट

News18Hindi
Updated: December 4, 2019, 11:20 PM IST
बैंक से नहीं मिला लोन तो बंदूक लेकर मैनेजर के दफ्तर में घुसा शख्स, की मारपीट
पुलिस ने वेट्रिवेल को गिरफ्तार कर लिया है (सांकेतिक तस्वीर)

यह शख्स अचानक से बैंक में घुसा और बैंक मैनेजर (Bank Manager) के साथ मारपीट करने लगा. इतना ही नहीं जिस मध्यस्थ (Mediator) ने उसे लोन दिलाने का वादा किया था उसने उसके सिर पर भी बंदूक लगा दी और उसे जान से मारने की धमकी देने लगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2019, 11:20 PM IST
  • Share this:
कोयम्बटूर, तमिलनाडु. कोयम्बटूर में बैक से लोन न मिलने पर एक शख्स इतना नाराज हो गया कि वह बैंक के मैनेजर के दफ्तर में बंदूक लेकर घुस आया. कोयम्बटूर (Coimbatore) में केनरा बैंक की एक ब्रांच में वेट्रिवेल नाम का शख्स बंदूक (Gun) लेकर मैनेजर के केबिन में घुस आया. वेट्रिवेल के पास चाकू भी था. उसने ऐसा इसलिए किया क्योंकि बैंक मैनेजर (Bank Manager) ने उसे लोन देने से मना कर दिया था.

यह शख्स अचानक से बैंक में घुसा और बैंक मैनेजर (Bank Manager) के साथ मारपीट करने लगा. इतना ही नहीं जिस मध्यस्थ (Mediator) ने उसे लोन दिलाने का वादा किया था उसने उसके सिर पर भी बंदूक लगा दी और उसे जान से मारने की धमकी देने लगा.

9 महीने तक चले प्रॉसेस के बाद भी नहीं मिला लोन
वेट्रिवेल ने उन लोगों पर भी हमला किया, जिन लोगों ने उसे रोकने की कोशिश की. रिपोर्ट्स के मुताबिक वेट्रिवेल ने अपनी संपत्ति गिरवी रखने के बाद मार्च में केनरा बैंक (Canara Bank) से एक करोड़ रुपये के लोन के लिए आवेदन किया था. बैंक ने 9 महीने तक उसके आवेदन को रखने के बाद खारिज किया था, इसी से वेट्रिवेल ने उसे नाराज किया था.

वेट्रिवेल ने लोन दिलाने के लिए मध्यस्थ गनाबलन को भी 3 लाख रुपये दिए थे. गनाबलन ने उससे वादा किया था कि उसका लोन पास हो जाएगा. जब वेट्रिवेल को लोन (Loan) नहीं मिला तो वह बंदूक और चाकू के साथ बैंक पहुंचा और ब्रांच मैनेजर और मध्यस्थ पर हमला कर दिया. जब दो लोग मैनेजर को बचाने पहुंचे तो वेट्रिवेल ने उनकी पिटाई भी कर दी.

पुलिस ने वेट्रिवेल को किया गिरफ्तार
इस घटना के बाद पुलिस ने वेट्रिवेल को गिरफ्तार कर लिया है. उसने आरोप लगाया है कि कंपनी में बढ़ते कर्ज और नुकान ने उसे आत्महत्या (Suicide) के लिए प्रेरित कर दिया था. ऐसे में आखिरी उपाय के तौर पर उसने महीनों तक बैंक से मिलने वाले लोन का इंतजार किया था. वहीं बैंक मैनेजर ने कहा है कि उन्होंने लोन प्रॉसेसिंग का प्रयास किया था लेकिन बहुत बड़ी रकम होने के चलते यह पास नहीं हो सका.
Loading...

यह भी पढ़ें: उस पवन जल्लाद की कहानी, जो देगा निर्भया गैंगरेप-मर्डर कांड के दोषियों को फांसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 11:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...