कर्नाटक में नहीं बनी सरकार तो कांग्रेस को याद आया गोवा

गोवा में चुनाव के बाद कांग्रेस को 40 में से 17 सीटें मिली थी और वो सबसे बड़ी पार्टी थी जबकि बीजेपी को केवल 14 सीटे मिली थीं. लेकिन बीजेपी ने गोवा विकास मंच के तीन और तीन निर्दलियों के समर्थन से सरकार बनाने का दावा किया.

संदीप सोनवलकर
Updated: May 17, 2018, 9:21 PM IST
कर्नाटक में नहीं बनी सरकार तो कांग्रेस को याद आया गोवा
प्रतीकात्मक तस्वीर.
संदीप सोनवलकर
संदीप सोनवलकर
Updated: May 17, 2018, 9:21 PM IST
कर्नाटक में सरकार ना बना पाने वाली कांग्रेस ने अब इसका बदला गोवा में लेने की रणनीती बनाई है. कांग्रेस ने गोवा में दावा ठोकते हुए कहा है कि अब उसे भी सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए.

गोवा में चुनाव के बाद कांग्रेस को 40 में से 17 सीटें मिली थी और वो सबसे बड़ी पार्टी थी जबकि बीजेपी को केवल 14 सीटे मिली थीं. लेकिन बीजेपी ने गोवा विकास मंच के तीन और तीन निर्दलियों के समर्थन से सरकार बनाने का दावा किया. इसके साथ ही कांग्रेस के विश्वजीत राणे ने इस्तीफा दे दिया था और बाद में बीजेपी की टिकट पर चुनकर सत्ता में आ गये.

अब कांग्रेस कह रही है कि जिस तर्ज पर कर्नाटक में बीजेपी को मौका दिया गया उसी तर्ज पर उसे भी बड़ी पार्टी होने के नाते बुलाया जाए. कांग्रेस के 16 विधायक शुक्रवार को राजभवन में जाकर परेड भी करेगें. ये पूरी योजना राहुल गांधी के करीबी रहे गोवा कांग्रेस के प्रमुख गिरीश चोडनकर ने बनाई है. हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि इस पर कुछ भी नहीं होना है.

पहली बात कि गोवा में अभी मनोहर पर्रीकर की सरकार है और किसी सरकार को जब तक हटाया नहीं जाए किसी दूसरो को मौका नही दिया जा सकता. जाहिर है गर्वनर कहेंगे कि अगर कांग्रेस के पास नंबर है तो वो सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाए और सरकार गिराए. क्योंकि किसी को भी सीधा मौका नहीं दिया जा सकता. यही बात कांग्रेस ने अदालत में भी कही थी लेकिन अदालत से भी कहा गया कि सदन में ही साबित किया जाए कि बहुमत किसके साथ है.

इस बीच मनोहर पर्रीकर विदेश में इलाज करा रहे हैं और जब तक वो नही लौटेंगे सदन बुलवाया नही जा सकता. पिछला सदन मार्च में हुआ था और अगले सदन के लिए अभी अगस्त तक का समय है. यानी कांग्रेस सदन बुलाने की मांग भी अभी नही कर सकती. सबसे बडी बात यह भी है कि कांग्रेस को किसी और का अभी समर्थन ही नही मिल सकता है ऐसे में दावा ठोककर कांग्रेस को बेइज्जती का सामना करना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ेंः
कांग्रेस और जेडी(एस)ने अपने विधायकों को बंधक बनाकर रखा है: जावडेकर
Loading...
सीतापुर में आदिवासियों के बीच राहुल गांधी ने बजाया ढोल


 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर