राजनाथ सिंह के बाद बालासोर से सांसद प्रताप चंद्र सारंगी के लापता होने के लगे पोस्टर, केस दर्ज

केंद्रीय मंत्री एवं बालासोर से सांसद प्रताप सारंगी होम क्वारंटाइन में हैं.

केंद्रीय मंत्री एवं बालासोर से सांसद प्रताप सारंगी होम क्वारंटाइन में हैं.

बालासोर (Balasore) से सांसद प्रताप ​चंद्र सारंगी (Pratap Chandra Sarangi) के लापता होने के पोस्टर में लिखा हुआ है कि हमारे एमपी लापता हैं. बालासोर के लोग उन्हें खोजने में हमारी मदद करें.

  • Share this:
नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) के बाद अब केंद्रीय राज्यमंत्री और ओडिशा (Odisha) के बालासोर से सांसद प्रताप ​चंद्र सारंगी (Pratap Chandra Sarangi) के लापता होने के पोस्टर लगाए गए हैं. बालासोर (Balasore) में पोस्टर लगाए जाने के मामले में दो कांग्रेसी नेताओं पर केस दर्ज किया गया है. बता दें कि ये पोस्टर स्टेशन स्वॉयर, कचहरी और बालासोर अदालत इलाके में लगाए गए हैं.

बालासोर से सांसद प्रताप ​चंद्र सारंगी के लापता होने के पोस्टर में लिखा हुआ है कि हमारे एमपी लापता हैं. बालासोर के लोग उन्हें खोजने में हमारी मदद करें. इसी तरह के एक अन्य पोस्टर में लिखा गया है कि काफी लंबे समय से सारंगी बालासोर में नजर नहीं आए हैं उन्हें खोजने में हम लोगों की मदद करें. घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने पोस्टर लगाने के आरोप में कांग्रेस नेता संजीव गिरी और सुधांशु शंकर जेना के खिलाफ मामला दर्ज किया है. दोनों ही कांग्रेसी नेताओं पर भाजपा सांसद की छवि खराब करने का आरोप है.

हालांकि इस मामले में संजीव गिरी ने अपने आपको निर्दोष बताया है और कहा है कि यह पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल हुए हैं. हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इसे केवल शेयर किया है. मंत्री इसके लिए हमें कैसे दोषी ठहरा सकते हैं. उन्होंने आरोप लगाया​​ कि जनता कर्फ्यू के दौरान मंत्री जी यहीं पर थे और मुझे लगता है कि लॉकडाउन के बाद वह दिल्ली गए हैं.

इस पूरे मामले में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता पृथ्वीराज हरिचंदन ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सभी तरह की विमान सेवाएं बंद थीं, जिसके कारण सांसद प्रताप ​चंद्र सारंगी बालसोर आ पाने में असमर्थ थे. विमान सेवाएं शुरू होते ही निश्चित तौर पर वह अपने संसदीय क्षेत्र में नजर आएंगे.
इसे भी पढ़ें :-

भारत-चीन के बीच तनाव जारी, कश्मीर से लद्दाख भेजे गए सेना और ITBP के जवान

परिवारवालों को घर पहुंचाने के लिए चुराई बाइक, दो हफ्ते बाद पार्सल से लौटाई



दावा! चीन नहीं यूरोप में था कोरोना का पहला मरीज, नवंबर में सामने आया पहला केस

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज