चीन-पाकिस्तान ने चली चाल, कल कश्मीर मुद्दे पर UNSC में बंद कमरे में होगी चर्चा

पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने कहा था कि उनके देश ने जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) का विशेष दर्जा समाप्त करने के भारत के फैसले पर चर्चा के लिए सुरक्षा परिषद की आपात बैठक बुलाने की औपचारिक मांग की है.

News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 11:15 PM IST
चीन-पाकिस्तान ने चली चाल, कल कश्मीर मुद्दे पर UNSC में बंद कमरे में होगी चर्चा
कल संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद बंद कमरे में कश्मीर मामले पर करेगी चर्चा. (सांकेतिक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 11:15 PM IST
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (United Nations Security Council) जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) से विशेष दर्जा वापस लेने के भारत के कदम पर शुक्रवार को बंद कमरे में चर्चा करेगी. राजनयिकों ने यह जानकारी दी. राजनयिकों ने कहा कि सुरक्षा परिषद के मौजूदा अध्यक्ष पोलैंड (Poland) ने सुबह 10 बजे (1400 जीएमटी) इस मुद्दे को चर्चा के लिए सूचीबद्ध किया है.

चीन ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) का विशेष दर्जा खत्म करने के भारत के फैसले पर चर्चा के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाने की मांग की थी. एक वरिष्ठ राजनयिक ने बताया था कि पाकिस्तान ने इस बारे में सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष पोलैंड को पत्र लिखा था.

भारतीय उच्चायुक्त को किया गया है तलब
पाकिस्तान ने भारतीय सैनिकों द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्षविराम का कथित तौर पर उल्लंघन किए जाने का विरोध करने के लिए बृहस्पतिवार को भारत के उप-उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया को समन किया. विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि महानिदेशक (दक्षिण एशिया और दक्षेस) मोहम्मद फैसल ने अहलूवालिया को तलब किया और 'भारतीय सेना द्वारा 15 अगस्त को लिपा तथा बट्टल सेक्टरों में किए गए संघर्षविराम उल्लंघन की निंदा की.'

फैसल विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता भी हैं. इसमें कहा गया है कि गोलीबारी में तीन पाकिस्तानी सैनिक मारे गए. फैसल ने दावा किया कि भारतीय सेना 2003 की संघर्षविराम व्यवस्था का लगातार उल्लंघन कर रही है. उन्होंने कहा कि भारत द्वारा संघर्षविराम का उल्लंघन क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के लिए खतरा है. फैसल ने भारत से आग्रह किया कि वह अपनी सेनाओं को संघर्षविराम का पूरी तरह से सम्मान करने का निर्देश दे.

पाकिस्तान ने की थी मांग
हाल में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि उनके देश ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के भारत के फैसले पर चर्चा के लिए सुरक्षा परिषद की आपात बैठक बुलाने की औपचारिक मांग की है.
Loading...

महमूद कुरैशी ने गुरुवार को कहा, "इस #15AugustBlackDay पर हम कश्मीरियों के अधिकारों के लिए एकजुट होत हैं. मांग करते हैं कि उनकी आवाज सुनी जाए और भारतीय क्रूरता बंद हो. कल हमारे अनुरोध पर यूएनएसी भारत के एकतरफा कदम और कश्मीर में मानवीय संकट पर चर्चा करेगी. हम हर मंच पर कश्मीर की आवाज उठाते रहेंगे."



एस जयशंकर बता चुके हैं आंतरिक मामला
बता दें कि विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को बीजिंग में चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ हुई द्विपक्षीय मुलाकात में स्पष्ट किया था कि जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने का फैसला भारत का आंतरिक मामला है. उन्होंने कहा था कि यह बदलाव बेहतर प्रशासन और क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए है एवं फैसले का असर भारत की सीमाओं और चीन के साथ लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर नहीं पड़ेगा.

बौखलाया हुआ है पाकिस्तान
भारत ने जब से जम्मू-कश्मीर से अनु्च्छेद 370 को खत्म किया है पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. पाकिस्तान दुनियाभर में इस मामले को मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहा है, हालांकि उसे इसमें कोई सफलता नहीं मिल पा रही है. दुनिया के अधिकांश देशों ने इस मामले में भारत का साथ दिया है.

(भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें: चीन ने कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाने की मांग की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 15, 2019, 11:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...