कश्मीर पर ट्रंप के झूठ के बाद बदले अमेरिका के सुर, अब भारत को बताया सच्चा दोस्त

व्हाइट हाउस ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत सरकार के साथ उसके बहुत अच्छे संबंध हैं और ये संबंध और मजबूत हो रहे हैं.

News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 10:04 PM IST
कश्मीर पर ट्रंप के झूठ के बाद बदले अमेरिका के सुर, अब भारत को बताया सच्चा दोस्त
व्हाइट हाउस ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत सरकार के साथ उसके बहुत अच्छे संबंध हैं और ये संबंध और मजबूत हो रहे हैं (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 10:04 PM IST
व्हाइट हाउस ने कहा है कि अमेरिका और भारत के बीच संबंध बेहद अच्छे हैं और लगातार मजबूत हो रहे हैं. व्हाइट हाउस का यह बयान कश्मीर पर ट्रंप के झूठ के बाद आया है. व्हाइट हाउस के सलाहकार केलियाने कॉनवे ने पत्रकारों के उस सवाल के जवाब में यह बात कही जिसमें भारत सरकार ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की इस बात को सिरे से खारिज कर दिया है कि मोदी ने कश्मीर मामले पर उनसे मध्यस्थता का अनुरोध किया था.

व्हाइट हाउस ने कहा, ‘‘हमारे (प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी) मोदी और भारत सरकार के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं और ये संबंध और मजबूत हो रहे हैं.’’

राष्ट्रपति के बयान पर कुछ भी कहने से बचे अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता
अमेरिकी विदेश विभाग ने गुरुवार को की गई पत्रकारों की एक अलग ब्रीफिंग के दौरान यह पूछे जाने पर कि क्या अमेरिका की कश्मीर नीति में बदलाव हुआ है तो अमेरिकी प्रवक्ता मॉर्गन आर्टागस ने इस पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया. हालांकि अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता मॉर्गन आर्टागस ने इतना जरूर कहा, “हां, राष्ट्रपति के बयान से इतर कहने के लिये मेरे पास कुछ नहीं है.”

कश्मीर पर ट्रंप के झूठे दावे के बाद मच गया था बवाल
ट्रम्प ने इस सप्ताह की शुरुआत में यह कहकर भारत को स्तब्ध कर दिया था कि मोदी ने उनसे कश्मीर मामले पर मध्यस्थता का अनुरोध किया है. इसके तुरंत बाद विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा था कि मोदी ने कभी ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया और कश्मीर के मामले पर दोनों नेताओं के बीच कभी कोई बात नहीं हुई. भारत ने कहा है कि कश्मीर एक द्विपक्षीय मामला है.

भारतीय विदेश मंत्रालय भी कर चुका है मामले को खत्म करने की गुजारिश
Loading...

भारत की ओर से विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने गुरुवार को नयी दिल्ली में कहा कि यह “आगे बढ़ने” का वक्त है और भारत-अमेरिका संबंध बेहद मजबूत बने हुए हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह भी कहा कि इस विवाद को अब विराम दे दिया जाना चाहिए क्योंकि भारत ने अपनी स्थिति स्पष्ट कर दी है और अमेरिकी विदेश विभाग ने मुद्दे पर त्वरित स्पष्टीकरण भी दे दिया है.

यह भी पढ़ें: अमेरिका दौरे से क्या लेकर लौटे पाकिस्तानी PM इमरान खान?
First published: July 26, 2019, 10:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...