भारत-चीन सीमा मुद्दे पर सहमति का दोनों देश करें ईमानदारी से सम्मानः विदेश मंत्रालय

विशेष प्रतिनिधियों के बीच सबसे हालिया साझा सहमति 2012 में बनी थी.

भाषा
Updated: October 12, 2017, 10:59 PM IST
भारत-चीन सीमा मुद्दे पर सहमति का दोनों देश करें ईमानदारी से सम्मानः विदेश मंत्रालय
news 18
भाषा
Updated: October 12, 2017, 10:59 PM IST
भारत ने आज इस बात पर जोर दिया कि यह महत्वपूर्ण है कि सीमा मुद्दे के समाधान के लिए चीन और भारत के विशेष प्रतिनिधियों के बीच बनी सहमति का दोनों पक्षों द्वारा ‘‘ईमानदारी से’’ सम्मान किया जाए तथा प्रत्येक पक्ष दूसरे की स्थिति सही रूप में रखे.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार की यह प्रतिक्रिया चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के उस कथित बयान के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में आयी जिसमें दावा किया गया था कि चीन-भारत सीमा के सिक्किम सेक्शन का सीमांकन 1890 की ब्रिटेन-चीन संधि के तहत हुआ है. चीन की ओर से यह दावा गत रविवार को किया गया था.

कुमार ने कहा, भारत-चीन सीमा मुद्दे के समाधान के लिए बातचीत दोनों देशों के विशेष प्रतिनिधियों के स्तर पर, दोनों के बीच समय-समय पर हुए समझौतों और सहमतियों के आधार पर होती है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘विशेष प्रतिनिधियों के बीच सबसे हालिया साझा सहमति 2012 में बनी थी. यह महत्वपूर्ण है कि इन सहमतियों का दोनों पक्षों द्वारा ईमानदारी से सम्मान किया जाए और प्रत्येक पक्ष दूसरे की स्थिति सही रूप में रखे.’’

इन खबरों पर कि चीन ने डोकलाम में गतिरोध वाले स्थल के पास अपने सैनिकों की अच्छी संख्या बनाये रखी है और पहले से मौजूद एक सड़क को चौड़ा करने का काम शुरू कर दिया है जो कि गतिरोध वाले क्षेत्र से करीब 12 किलोमीटर दूर स्थित है, कुमार ने कहा कि 28 अगस्त को वापसी के बाद से भारत-चीन सैन्य आमना-सामना वाले स्थल पर कोई नया बदलाव नहीं हुआ है.

उन्होंने कहा, ‘‘इस क्षेत्र में यथास्थिति बरकरार है. इसके विपरीत किया जाने वाला कोई भी दावा गलत है.’’ विदेश सचिव एस जयशंकर की इस सप्ताह सेशेल्स यात्रा के बारे में एक अन्य सवाल पर प्रवक्ता ने कहा कि वह एक पूर्व निर्धारित यात्रा थी. कुमार ने कहा, ‘‘उन्होंने राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, विपक्ष के नेता और कैबिनेट मंत्रियों से मुलाकात की. मुख्य ध्यान द्विपक्षीय सहयोग के विकास और समुद्री सहयोग पर था.’’

ये भी पढ़ेंः

चीन को पीछे छोड़ सबसे तेजी से बढ़ेगी इंडिया की इकोनॉमी: IMF

रक्षा मंत्री के 'नमस्ते' से चीन खुश, बोला - हम शांति के लिए तैयार
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Nation News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर