अमित शाह के दौरे से पहले प्रशांत किशोर पहुंचेंगे बंगाल, तैयार होगी TMC की चुनावी रणनीति

अमित शाह दुर्गापूजा के पहले पश्चिम बंगाल जाने वाले हैं. (फाइल फोटो)
अमित शाह दुर्गापूजा के पहले पश्चिम बंगाल जाने वाले हैं. (फाइल फोटो)

खबरें हैं कि प्रशांत किशोर और तृणमूल के सांसद अभिषेक बनर्जी (TMC MP Abhishek Banerjee) उत्तरी बंगाल (North Bengal) का दौरा करेंगे. दरअसल उत्तरी बंगाल में बीजेपी का प्रभाव बढ़ रहा है और दुर्गा पूजा के पहले गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) राज्य के दौरे पर जा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 5:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तृणमूल कांग्रेस (TMC) के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (political strategist Prashant Kishor) पश्चिम बंगाल पहुंचकर चुनावी रणनीति तैयार करने वाले हैं. खबरें हैं कि प्रशांत किशोर और तृणमूल के सांसद अभिषेक बनर्जी (TMC MP Abhishek Banerjee) उत्तरी बंगाल (North Bengal) का दौरा करेंगे. दरअसल उत्तरी बंगाल में बीजेपी का प्रभाव बढ़ रहा है और दुर्गा पूजा के पहले गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) राज्य के दौरे पर जा रहे हैं.

बीजेपी कार्यकर्ता आंदोलन कर रहे हैं
माना जा रहा है कि अमित शाह के पश्चिम बंगाल पहुंचने पर राजनीतिक माहौल और गर्मा सकता है. राज्य में पहले से भी राजनीतिक हत्याओं को लेकर बीजेपी कार्यकर्ता आंदोलन कर रहे हैं. बीजेपी कार्यकर्ताओं की रैली पर ममता सरकार के दमनकारी रवैये को लेकर आलोचनाएं भी की जा रही हैं.

पहली बार उत्तरी बंगाल जाएंगे प्रशांत किशोर
गौरतलब है कि प्रशांत किशोर जून 2019 में तृणमूल के चुनावी रणनीतिकार बने थे. इसके बाद ये पहली बार होगा जब वो उत्तरी बंगाल के दौरे पर जाएंगे. राज्य के इस हिस्से में विधानसभा की 54 सीटें आती हैं. प्रशांत के साथ अभिषेक बनर्जी तीन दिनों तक राज्य के इस हिस्से का दौरा करेंगे. इस दौरान ये दोनों सिलिगुड़ी, अलीद्वारपुर, जलपाईगुड़ी, कूचबिहार और दार्जिलिंग में पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात करेंगे.



उत्तरी बंगाल में इन सीटों पर तृणमूल को देना होगा ध्यान
उत्तरी बंगाल में तृणमूल के गढ़ के तौर पर अलीद्वारपुर का नाम सबसे पहले आता है. यहां पर दो विधानसभा सीटें हैं. वहीं जलपाईगड़ी में दो, उत्तरी दिनाजपुर में दो, दक्षिणी दिनाजपुर में तीन और मालदा में एक सीट हैं. इन सीटों के अलावा बाकी की 45 सीटों पर तृणमूल अपनी रणनीति मजबूती के साथ तैयार कर रही है क्योंकि इन पर बीजेपी का प्रभाव बेहद तेजी के साथ बढ़ रहा है. उत्तर बंगाल की 54 सीटों में से 2016 के चुनाव में टीएमसी ने 16 सीटें जीती थीं. हालांकि बीजेपी के बढ़ते प्रभाव की वजह से माना जा रहा है कि राज्य के इस हिस्से में आगामी विधानसभा चुनाव में टीएमसी 8 से 10 सीटों तक में सिमट सकती है.

चुनावी रणनीति पर चर्चा कर सकते हैं अमित शाह
लोकसभा चुनाव में जबरदस्त प्रदर्शन के बाद अब अमित शाह की यात्रा को लेकर कहा जा रहा है कि वो राज्य के पार्टी नेताओं को विधानसभा चुनाव की रणनीति बताएंगे. माना जा रहा है कि इसमें राज्य से संबंधित मुद्दों को लेकर विशेष चर्चा हो सकती है. इस बीच 22 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पश्चिम बंगाल की जनता को संबोधित करने वाले हैं.

दुर्गा पूजा के अवसर पर बंगाल की जनता को पीएम द्वारा संबोधित करने के प्रतीकात्मक महत्व बताए जा रहे हैं. गौरतलब है कि 2017 में तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की तीन दिवसीय यात्रा के दौरान नक्सलबाड़ी में एक दलित के घर भोजन किया था. अब माना जा रहा है कि अमित शाह उत्तरी बंगाल से एक बार फिर चुनावी प्रचार को गति दे सकते हैं.

(सुजीत नाथ की स्टोरी से इनपुट्स के साथ. पूरी स्टोरी यहां क्लिक कर पढ़ी जा सकती है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज