अहमदाबाद: लाठी से पीट-पीटकर नाबालिग की हुई हत्या, आरोपी सिपाही के खिलाफ मामल दर्ज

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

पुलिस ने इसानपुर पुलिस स्टेशन (Isanpur Police Station) में एक पुलिसकर्मी और बाल सुधार गृह के एक कर्मचारी सहित कुल छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 3, 2021, 8:30 AM IST
  • Share this:

अहमदाबाद. पिछले साल 8 अक्टूबर को शहर के खानपुर इलाके में बाल सुधार गृह (Juvenile Home) में एक नाबालिग की मौत हो गई थी. इस मामले में परिजनों ने पुलिस और बाल सुधार गृह के कर्मचारियों पर हत्या के आरोप लगाए हैं. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद, पुलिस ने इसानपुर पुलिस स्टेशन (Isanpur Police Station) में एक पुलिसकर्मी और बाल सुधार गृह के एक कर्मचारी सहित कुल छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

इसानपुर इलाके में रहने वाले नाबालिग का 11 अक्टूबर को उसके पड़ोस में रहने वाले जयंतीभाई सोलंकी के साथ झगड़ा हुआ था. जिसमें जयंतीभाई ने नाबालिग की गर्दन पर लकड़ी की छड़ी से हमला किया. नाबालिग के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करने के बाद कार्रवाई की और उन्हें जुवेनाइल कोर्ट में भेज दिया. इसके बाद और उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया. लेकिन सिविल अस्पताल में उसकी मौत हो गई.

पोस्टमॉर्टम से हुआ खुलासा

इलाज के दौरान नाबालिग की मौत हो गई. इसके बाद शव का पोस्टमार्टम किया गया. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला कि नाबालिग की मौत निमोनिया और सांस की खराबी के कारण हुई. दरअसल गर्दन के पिछले हिस्से में पस हो गया था.
ये भी पढ़ें:- 11 साल पहले महिला को मारा, फिर बचने को बदल लिया नाम और धर्म, अब हुआ गिरफ्तार

लकड़ी की छड़ी से पीटा

जांच के दौरान, ये पता चला कि नबालिग को इसानपुर पुलिस स्टेशन के एक पुलिस कांस्टेबल ऋषिराज सिंह ने गाल पर और साथ ही गर्दन पर और पैरों के तलवों पर लकड़ी की छड़ी से पीटा था. बाल सुधार गृह के प्रभारी मेहुल पटेल और तीन गार्डों ने लापरवाही दिखाई और उन्हें इलाज के लिए अस्पताल नहीं भेजा. लिहाजा उसकी मौत हो गई. पुलिस ने सभी छह आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है और फिलहाल पूरे मामले में आगे की कार्रवाई शुरू कर रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज