• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • COVID-19: बच्चों के लिए सितंबर तक आ सकती है वैक्सीन- एम्स प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया

COVID-19: बच्चों के लिए सितंबर तक आ सकती है वैक्सीन- एम्स प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया

कोरोना की तीसरी लहर की आहट के बीच उम्‍मीद है कि बच्‍चों की कोरोना वैक्‍सीन सितंबर तक आ जाएगी. 
(सांकेतिक फोटो)

कोरोना की तीसरी लहर की आहट के बीच उम्‍मीद है कि बच्‍चों की कोरोना वैक्‍सीन सितंबर तक आ जाएगी. (सांकेतिक फोटो)

Coronavirus Third Wave: डॉ. रणदीप गुलेरिया (Randeep Guleria) ने बताया कि जाइडस कैडिला ने बच्‍चों की वैक्‍सीन का ट्रायल पूरा कर लिया है और उन्‍हें आपातकालीन इस्‍तेमाल के लिए मंजूरी का इंतजार है. वहीं भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोवैक्सीन का ट्रायल भी अगस्त या सितंबर तक पूरा कर लिया जाएगा.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. कोरोना (Corona) की तीसरी लहर की आहट के बीच एम्स (AIIMS) के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया (Randeep Guleria) ने जानकारी दी है कि बच्‍चों के लिए कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) सितंबर तक लांच की जा सकती है. भारत में अब तक 42 करोड़ से ज्‍यादा लोगों को कारोना वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है. सरकार ने इस साल के अंत तक 18 साल के ऊपर के सभी लोगों को वैक्‍सीन लगाने का लक्ष्‍य रखा है.

    कोरोना वायरस की दूसरी लहर का असर अभी पूरी तरह से खत्‍म भी नहीं हुआ है कि तीसरी लहर को लेकर चेतावनी जारी कर दी गई है. ऐसी रिपोर्ट भी सामने आई है, जिसके मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर बच्‍चों के लिए खतरनाक साबित हो सकती है. डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि बच्चों की कोरोना वैक्सीन संक्रमण की चेन तोड़ने की दिशा में अहम कदम साबित होगी.

    इसे भी पढ़ें :- क्या सितंबर-अक्टूबर में आएगी कोरोना वायरस की तीसरी लहर? जानें AIIMS निदेशक ने क्या कहा

    डॉ. गुलेरिया ने बताया कि जाइडस कैडिला ने बच्‍चों की वैक्‍सीन का ट्रायल पूरा कर लिया है और उन्‍हें आपातकालीन इस्‍तेमाल के लिए मंजूरी का इंतजार है. डॉ. गुलेरिया ने बताया कि भारत बायोटेक की ओर से बच्‍चों के लिए तैयार की गई कोवैक्सीन का ट्रायल भी अगस्त या सितंबर तक पूरा कर लिया जाएगा. उन्‍होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए ट्रायल के तुरंत बाद ही वैक्‍सीन को हरी झंडी दिखा दी जाएगी.

    इसे भी पढ़ें :- कोरोना के नए वेरिएंट्स के खिलाफ पड़ सकती है वैक्सीन बूस्टर शॉट्स की जरूरत, एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा

    बता दें कि फाइजर की ओर से तैयार बच्‍चों की वैक्‍सीन को अमेरिकी स्वास्थ्य एजेंसी फूड एंड ड्रग रेगुलेटर से मंजूरी मिल चुकी है. ऐसे में उम्मीद है कि सितंबर तक बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू किया जा सकेगा. कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए वैक्‍सीन को अहम माना जा रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज