वैक्सीन लाइसेंस को लेकर मोदी सरकार पर बरसे ओवैसी, पूछा-भारत बायोटेक और सीरम से आपका क्या कनेक्शन है

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी. (फाइल फोटो)

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी. (फाइल फोटो)

Asaduddin Owaisi Coronavirus Vaccine License: एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कि हमारी सारी वैक्सीन सिर्फ दो ही कंपनियां क्यों बना रही हैं?

  • Share this:

हैदराबाद. ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को कोरोना वायरस रोधी वैक्सीन के लिए सिर्फ दो ही कंपनियों को लाइसेंस देने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया और पूछा कि आपका इनसे क्या कनेक्शन है? एआईएमआईएम के ट्विटर अकाउंट पर जारी एक वीडियो में ओवैसी ने कहा, 'कोवैक्सीन को आईसीएमआर ने तैयार किया जो कि सरकार से संबंधित है और फिर सरकार ने सिर्फ भारत बायोटेक को इसका लाइसेंस दिया. हमारी सारी वैक्सीन सिर्फ दो ही कंपनियां क्यों बना रही हैं?'


ओवैसी ने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा, 'दूसरी कंपनियों को वैक्सीन का उत्पादन करने के लिए लाइसेंस क्यों नहीं मिल सकता? क्या मोदी के साथ भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट का कनेक्शन इलेक्टोरल बॉन्ड पर आधारित है?' उन्होंने आगे कहा, 'मोदी ने वैक्सीन के 50 प्रतिशत उत्पादन को डायवर्ट किया है. अब वैक्सीन हासिल करने के लिए राज्य सरकारों को निजी क्षेत्र के साथ प्रतियोगिता करनी होगी. यह किस तरह की वैक्सीन पॉलिसी है?'



Youtube Video

गौरतलब है कि राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के साथ साझेदारी में हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवैक्सीन के आपातकालीन प्रयोग को तीन जनवरी को मंजूरी मिली थी. परीक्षण के परिणामों में बाद में सामने आया कि यह टीका 78 फीसदी तक प्रभावी है. दूसरी ओर, कोविशील्ड का विकास ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और ब्रिटेन-स्वीडन की कंपनी एस्ट्राजेनेका ने किया है और इसका निर्माण पुणे की कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) कर रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज