होम /न्यूज /राष्ट्र /अरविंद केजरीवाल पीएम मोदी के सारे रिकॉर्ड तोड़ना चाहते हैंः AIMIM प्रमुख ओवैसी

अरविंद केजरीवाल पीएम मोदी के सारे रिकॉर्ड तोड़ना चाहते हैंः AIMIM प्रमुख ओवैसी

 AIMIM प्रमुख ओवैसी ने केजरीवाल पर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

AIMIM प्रमुख ओवैसी ने केजरीवाल पर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

ऑल इंडिया मुस्लिम इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

एआईएमआईएम ने एमसीडी चुनाव में 16 उम्मीदवार उतारे हैं.
ओवैसी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल 2013 के नरेंद्र मोदी हैं और उनके सारे रिकॉर्ड तोड़ना चाहते हैं.
एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी भाजपा को जीतने में मदद नहीं करती है.

नई दिल्ली. ऑल इंडिया मुस्लिम इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को अरविंद केजरीवाल नीत आम आदमी पार्टी (आप) पर कटाक्ष करने के लिए ‘छोटा रिचार्ज’ शब्द का इस्तेमाल किया और आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने मुसलमानों को ‘बदनाम’ किया तथा वह “ नरेंद्र मोदी के सभी रिकॉर्ड को तोड़ना चाहते हैं.’ एआईएमआईएम ने एमसीडी चुनाव में 16 उम्मीदवार उतारे हैं.

चार दिसंबर को होने वाले दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव में सीलमपुर से एआईएमआईएम के प्रत्याशी का प्रचार करते हुए ओवैसी ने आरोप लगाया कि फरवरी 2020 में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के दौरान केजरीवाल गायब हो गए थे जबकि वह संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ शाहीनबाग में प्रदर्शन करने वालों के विरुद्ध बोले थे. एमआईएआईएम के प्रमुख ने कहा, “जब लोग कोविड-19 से जूझ रहे थे, ऑक्सीजन और अस्पताल में बिस्तरों के लिए संघर्ष कर रहे थे तब दिल्ली के मुख्यमंत्री ने जहर उगला और कहा कि तब्लीगी जमात के कारण कोरोना वायरस फैल रहा है. उन्होंने तब्लीगी जमात को बदनाम किया.”

उन्होंने कहा, “ दिल्ली में कोविड मामलों की सूची में एक कॉलम था जिसमें तब्लीगी जमात के सदस्यों को ‘सुपर-स्प्रेडर्स’ के रूप में बताया जाता था. पूरा देश मुसलमानों पर शक करने लगा. नफरत बढ़ गई और कई लोगों पर हमला किया गया. इसके लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं.” ओवैसी ने आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा था कि वह आधे घंटे में शाहीन बाग में (सीएए विरोधी) प्रदर्शनकारियों को हटा देते. हैदराबाद के सांसद ने जनसभा में दावा किया, ‘उनकी पार्टी के एक व्यक्ति ने, जो बाद में भाजपा में शामिल हो गया, ‘गोली मारों…’ का नारा लगाया.’

उन्होंने कहा, ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री ने तब्लीगी जमात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई, लेकिन इस व्यक्ति के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई. यह उनका असली चेहरा है. वह 2013 के नरेंद्र मोदी हैं और उनके सारे रिकॉर्ड तोड़ना चाहते हैं.’ ओवैसी ने कहा, “(2020 के दंगों में) घर जलाए गए और लोग मारे गए। दिल्ली के मुख्यमंत्री कहीं नजर नहीं आए.” एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी भाजपा को जीतने में मदद नहीं करती है बल्कि ‘आप’ और कांग्रेस करती हैं और फिर ‘वे कहते हैं कि ओवैसी की वजह से भाजपा को फायदा हो रहा है.” ओवैसी ने मुस्लिम समुदाय से एआईएमआईएम उम्मीदवारों को वोट देकर अपना खुद का नेतृत्व बनाने को कहा.

उन्होंने कहा, “आपने कांग्रेस को वोट दिया लेकिन वह भाजपा को नहीं रोक सकी. आपने ‘आप’ को वोट दिया, लेकिन फिर भी भाजपा की जीत हुई. अगर ‘आप’ पतंग (एआईएमआईएम का चुनाव चिन्ह) के सामने वाला बटन दबाते हैं तो आपके वोट की कीमत बढ़ जाएगी. चाहे भाजपा हो, कांग्रेस हो या दिल्ली के मुख्यमंत्री का छोटा रिचार्ज. वे कभी नहीं चाहेंगे कि आप अपना नेतृत्व खड़ा करें.” एआईएमआईएम प्रमुख ने केजरीवाल और ‘आप’ पर निशाना साधने के लिए ‘छोटा रिचार्ज’ शब्द का इस्तेमाल किया.

" isDesktop="true" id="4965669" >

सांसद ने कहा, “ केजरीवाल से समान नागरिक संहिता, तीन तलाक, बिलकिस बानो और बुर्का पर उनके विचारों के बारे में पूछें. मैं आपसे उन लोगों के पक्ष में रहने के लिए कहता हूं जो आपके लिए लड़ते हैं. अगर आप उन्हें चुनते हैं जो चुप रहते हैं, तो वे आपको हमेशा के लिए चुप करा देंगे.” उन्होंने आरोप लगाया कि कोई भी पार्टी मुसलमानों, दलितों और आदिवासियों की भलाई के लिए काम नहीं करना चाहती. ओवैसी ने कहा कि उन्होंने मुस्लिमों से संबंधित हर बड़े मुद्दे पर बात की, जिसमें तीन तलाक, सीएए, गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम, अखलाक खान और पहलू खान की हत्या और समान नागरिक संहिता शामिल हैं.

Tags: Asaduddin owaisi, Delhi MCD Election

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें