अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्रः AIMIM सांसद ने 'बंदूकें लहराते शिवसैनिकों' का वीडियो ट्वीट किया, कहा- गिरफ्तार करो

इम्तियाज जलील AIMIM के नेता हैं और औरंगाबाद से सांसद हैं.
इम्तियाज जलील AIMIM के नेता हैं और औरंगाबाद से सांसद हैं.

Maharashtra: पुलिस अधिकारी ने बताया कि पड़ोसी रायगढ़ जिले के खोपोली में एक्सप्रेसवे पर बंदूकें लहराने वाले अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. अधिकारी ने कहा, "खोपोली पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ आर्म्स एक्ट की धारा 3/25 के तहत अपराध दर्ज किया गया है."

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2021, 11:54 PM IST
  • Share this:
मुंबई. ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) के नेता और औरंगाबाद से सांसद इम्तियाज जलील (Imtiaz Jaleel) ने एक वीडियो ट्वीट किया है. इस वीडियो में कथित तौर पर कार में सवार दो शिवसैनिक, एक ट्रक ड्राइवर पर बंदूकें लहराते हुए दिखाई दे रहे हैं. उन्‍होंने बताया कि मुंबई-पुणे एक्‍सप्रेसवे पर यह घटना शुक्रवार रात को घटी, AIMIM नेता ने अपराधियों की तत्‍काल गिरफ्तारी की मांग की है. दूसरी ओर शिवसेना (Shiv Sena) ने कहा कि कानून सबके लिए बराबर है और पुलिस मामले की जांच करेगी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है और दोनों आरोपियों की तलाश जारी है.

सांसद इम्तियाज जलील ने वीडियो के साथ लिखा है कि 'यह महाराष्‍ट्र के पुणे-मुंबई एक्‍सप्रेसवे की घटना है! वाहन पर लगा लोगो सारी बातें कहता है. शिवसैनिक रिवाल्‍वर की ब्रांडिंग कर रहे हैं, जब वे खुद के लिए शुक्रवार रात रास्‍ता बनाने की कोशिश कर रहे थे. क्‍या गृहमंत्री/डीजी इस कानूनहीनता पर ध्‍यान देंगे. उन्होंने कहा, "इस वीडियो में साफ दिख रहा है कि दो लोग, दोनों के पास एक-एक बंदूक है, जिसे वे लहराते हुए दिख रहे हैं, कार में सवार हैं. उनकी कार, ट्रक को ओवरटेक कर आगे निकल जाती है. कार पर एक लोगो को भी साफ देखा जा सकता है, जो शिवसेना के लोगो वाला बाघ का चेहरा है." जलील ने ट्वीट में महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री, गृहमंत्री और पुलिस महानिदेशक को टैग किया है.


इस घटना के बारे में पूछे जाने पर, मुंबई दक्षिण से लोकसभा सांसद और शिवसेना के प्रवक्ता अरविंद सावंत ने कहा, "कानून के समक्ष सभी समान हैं. पुलिस जांच करेगी और आवश्यक कदम उठाएगी." एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पड़ोसी रायगढ़ जिले के खोपोली में एक्सप्रेसवे पर बंदूकें लहराने वाले अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. अधिकारी ने कहा, "खोपोली पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ आर्म्स एक्ट की धारा 3/25 के तहत अपराध दर्ज किया गया है."



उन्होंने कहा कि वाहन और उसमें सवार लोगों का पता लगाने के लिए खोज की जा रही है, जिन्‍होंने ट्रक चालक को हथियार दिखाए थे. परिवहन विभाग कार के पंजीकरण नंबर के आधार पर, पुलिस वाहन के मालिक के बारे में जानकारी प्राप्त करने की कोशिश कर रही है. वहीं, औरंगाबाद में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए सांसद जलील ने कहा कि क्‍या सत्‍ता, शिवसेना के पास अहंकार ले आई है.

इस वीडियो के बारे में उन्‍होंने कहा, "हमारी पार्टी के एक कार्यकर्ता जो मुंबई से पुणे आ रहे थे, उन्‍होंने यह वीडियो लोनावाला के करीब रिकॉर्ड किया. हमारे कार्यकर्ता की कार से आगे चल रही कार में बंदूक लहराने वाले बैठे हुए थे, जिन्‍होंने ड्राइवर को धमकी दी थी. सरकार को इस मामले की जांच कर साफ करना चाहिए कि बंदूक लहराने वाले गुंडे थे या शिव सेना के कार्यकर्ता."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज