लाइव टीवी

फ्लाइट्स का किराया हुआ तय, 3 महीने तक बस फिक्स किराया ही ले पाएंगी एयरलाइंस, जानिए कितने का होगा टिकट

News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 5:25 PM IST
फ्लाइट्स का किराया हुआ तय, 3 महीने तक बस फिक्स किराया ही ले पाएंगी एयरलाइंस, जानिए कितने का होगा टिकट

दिल्‍ली से मुंबई के बीच का न्‍यूनतम किराया 3500 रुपये और अधिकतम किराया 10 हजार रुपये तय किया गया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने 25 मई से घरेलू उड़ानों का ऑपरेशन शुरू करने की घोषणा कर दी है. इस घोषणा के साथ, उन्‍होंने एयर फेयर की अधिकतम एवं न्‍यूनतम सीमा भी तय कर दी है. मंत्रालय द्वारा एयर फेयर पर लगाया गया यह कैप अगले तीन महीने तक लागू रहेगा. केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने देश के सबसे व्‍यस्‍त रूट का उदाहरण देते हुए बताया कि दिल्‍ली से मुंबई के बीच का न्‍यूनतम किराया 3500 रुपये और अधिकतम किराया 10 हजार रुपये तय किया गया है. इसी तरह, दिल्‍ली-मुंबई की ही तरह 25 मई से शुरू हो रही सभी सेक्‍टर की उड़ानों के किराए की सीमा तय कर दी गई है.

नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि उनके मंत्रालय की कोशिश है कि आपदा के इस दौर में ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को किफायती दरों पर एयर टिकट उपलब्‍ध हों. इसी मकसद से सभी गंतव्‍यों का अधिकतम एवं न्‍यूनतम किराया तय किया गया है. उन्‍होंने बताया कि पूर्व की तरह एयरलाइंस एयर फेयर को विभिन्‍न बकेट्स में बांट कर उसकी बिक्री शुरू करेंगी. एयरलाइंस को निर्देश दिया गया है वह अपने बकेट्स का निर्धारण मंत्रालय द्वारा तय किए गए अधिकतम एवं न्‍यूतनतम किराये के आधार पर ही करें. इसके अलावा, एयरलाइंस से यह भी कहा गया है कि वह 40 फीसदी टिकटों की बिक्री मंत्रालय द्वारा तय किए गए औसत किराए से कम में ही करेंगी.

यह भी पढ़ें: हवाई यात्रा के लिए दो घंटे पहले पहुंचाना होगा एयरपोर्ट, पूरी करनी होंगी यह 15 शर्तें



यात्रियों को कराना होगा 3 टैक्‍स का अतिरिक्‍त भुगतान : नागर विमानन मंत्रालय के सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने बताया कि मंत्रालय द्वारा निर्धारित किए गए किराया में एयर टिकट पर लिए जाने वाले तीन टैक्‍स शामिल नहीं हैं. इस किराए के इतर मुसाफिरों को यूजर डेवलपमेंट फीस (यूडीएफ), पैसेंजर सर्विस फीस (पीएसएफ) और जीएसटी टैक्‍स का भुगतान करना होगा. उन्‍होंने बताया कि आगामी तीन महीनों के निर्धारित किए गए फेयर सिस्‍टम की जानकारी सभी एयरलाइंस को दे दी गई है.



दूरी के हिसाब से सात हिस्‍सों में बांटा गया है एयर फेयर : केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि किराये के लिहाज से उड़ानों को सात ब्‍लॉक्‍स में बांटा गया है. इन्‍हीं ब्‍लॉक्‍स  के आधार पर अधिकतम एवं न्‍यूनतम किराए का निर्धारण भी किया गया है. उन्‍होंने बताया कि पहले सेक्‍टर में 40 मिनट तक की उड़ानों को शामिल किया गया है. वहीं, 40 मिनट से 60 मिनट की उड़ान को दूसरे ब्‍लॉक, 60 से 90 मिनट की उड़ान को तीसरे ब्‍लॉक, 90 से 120 मिनट की उड़ान को चौथे ब्‍लॉक, दो से ढाई घंटे की उड़ानों को पांचवें ब्‍लॉक, 150 मिनट से 3 घंटे तक की उड़ानों को छठे ब्‍लॉक और 180 मिनट से 220 मिनट तक की उड़ानों को सातवें ब्‍लॉक में रखा गया है. उन्‍होंने कहा कि इस समय कोई भी मुसाफिर देश के एक छोर से दूसरे छोर के बीच सफर कर सकता है.

यह भी पढ़ें:- अब बदल जाएगा हवाई सफर का अनुभव, हुए 10 बड़े बदलाव, Photos से समझिए Airport पर आपको किन स्टेप से गुजरना होगा

25 मई से शुरू होंगे एक तिहाई फ्लाइट ऑपरेशन : केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी के अनुसार, 25 मई से घरेलू उड़ानों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा. फिलहाल, ग्रीष्‍मकालीन शेड्यूल के तहत एक तिहाई फ्लाइट्स का ऑपरेशन किया जाएगा. आगामी दिनों में होने वाले अनुभवों के आधार पर फ्लाइट्स का ऑपरेशन बढ़ाया जाएगा. उन्‍होंने बताया कि 25 मई से मेट्रो सिटी से मेट्रो सिटी के बीच समर शेड्यूल में एप्रूव हो चुकी फ्लाइट्स की एक तिहाई फ्लाइट का ही परिचालन किया जाएगा. मेट्रो सिटी से नॉन मेट्रो के बीच, जहां सप्‍ताह में 100 से अधिक उड़ानों का परिचालन होता था, वहां भी एयरलाइंस को एक तिहाई कैप‍ेसिटी के साथ फ्लाइट ऑपरेशन की इजाजत होगी. वहीं, नॉन मेट्रो से मेट्रो सिटी के बीच सप्‍ताह में 100 कम उड़ान वाले सेक्‍टरों में एयरलाइंस अपनी सुविधा अनुसार एक तिहाई कैपेसिटी के साथ फ्लाइट ऑपरेशन कर सकती हैं.

 

 

यह भी पढ़ें: 

आज से इन शहरों के लिए करा सकेंगे फ्लाइट में बुकिंग, 25 मई से सिर्फ एक तिहाई उड़ानें होंगी शुरू

विमानन मंत्रालय ने तय किया फ्लाइट्स का किराया, तीन महीने तक बस इतना ही होगा एयर फेयर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 3:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading