अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र में 25 मई से नहीं शुरू हो सकेंगी हवाई सेवाएं, ये है बड़ी वजह

महाराष्ट्र में 25 मई से नहीं शुरू हो सकेंगी हवाई सेवाएं
महाराष्ट्र में 25 मई से नहीं शुरू हो सकेंगी हवाई सेवाएं

महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि उसके अहम शहर मुंबई और पुणे रेड जोन में हैं और इन शहरों में लॉकडाउन की पूरी पाबंदी है. ऐसे में रेड जोन वाले शहरों से घरेलू विमान सेवाओं को अभी शुरू नहीं किया जा सकता है.

  • Share this:
मुंबई. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए देशभर में पिछले 24 मार्च से लॉकडाउन (Lockdown) चल रहा है. लॉकडाउन के दौरान विमान और रेल सेवाओं पर भी रोक लगाई गई थी. हालांकि अब रेल सेवा के साथ ही घरेलू विमान सेवाओं (Domestic Airlines) को शुरू करने की इजाजत दे दी गई है. देशभर में 25 मई से विमान सेवाओं को शुरू कर दिया जाएगा. हालांकि सरकार के इस फैसले से महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार ने हाथ खड़े कर दिए हैं. महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि उसके अहम शहर मुंबई और पुणे रेड जोन में हैं और इन शहरों में लॉकडाउन की पूरी पाबंदी है. ऐसे में रेड जोन वाले शहरों से घरेलू विमान सेवाओं को अभी शुरू नहीं किया जा सकता है.

महाराष्ट्र सरकार इस बात पर नाराजगी भी जताई है कि विमान सेवाओं को शुरू करने का फैसला लेने से पहले राज्यों से कोई परामर्श क्यों नहीं लिया गया. महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार का कहना है कि इस तरह के फैसले लेने से पहले राज्यों की सलाह लेनी चाहिए. इस तरह का फैसला पूरी तरह से मनमाना है और इसमें योजना का आभाव है.





महाराष्ट्र सरकार की ओर से केंद्र को जानकारी देते हुए कहा गया है कि मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने अभी तक इस बात की भी जानकारी नहीं दी है कि एयरपोर्ट पर फिर से काम शुरू करने के लिए कितने कर्मचारी उपलब्ध हैं, उनके स्वास्थ्य की स्थिति की जानकारी लेने के लिए क्या कदम उठाए जा रहे हैं. यहां तक की यात्रियों के लिए किस तरह की योजना तैयार की गई है.
इसे भी पढ़ें :-  फ्लाइट से सफर करना नहीं होगा आसान, इन राज्यों ने यात्रियों के लिए तय की गाइडलाइन

27 हजार से अधिक यात्री हर दिन करेंगे सफर
महाराष्ट्र सरकार ने बताया कि अगर एयरपोर्ट को फिर से खोला जाता है तो महाराष्ट्र से हर दिन 27 हजार से अधिक यात्री घरेलू विमान सेवाओं का लाभ उठाएंगे. ऐसे में इनके लिए एयरपोर्ट और एयरलादन में ज्यादा स्टाफ की जरूरत होगी जो कोरोना महामारी के दौर में एक बड़ी चुनौती होगी. रेड जोन वाले शहरों में लॉकडाउन में कोई छूट नहीं दी जा रही है, ऐसे में स्टाफ एयरपोर्ट पर कैसे आएंगे. यात्रियों को भी इस दौरान खासी दिक्कत का सामना करना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें :-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज