Home /News /nation /

पंजाब विधानसभा: एक दिवसीय सत्र में अकाली विधायकों ने किया विरोध, कांग्रेस में कलह भी आई नजर

पंजाब विधानसभा: एक दिवसीय सत्र में अकाली विधायकों ने किया विरोध, कांग्रेस में कलह भी आई नजर

गुरु तेग बहादुर के 400 वें ‘प्रकाश पर्व’ के मौके पर पंजाब विधानसभा का एक दिवसीय विशेष सत्र बुलाया गया है.

गुरु तेग बहादुर के 400 वें ‘प्रकाश पर्व’ के मौके पर पंजाब विधानसभा का एक दिवसीय विशेष सत्र बुलाया गया है.

Punjab Assembly: शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा कि सरकार जनता के मुद्दों पर बात करने से बचना चाहती है. इसलिए सरकार सदन का समय नहीं बढ़ाना चाहती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    चंडीगढ़. पंजाब विधानसभा के विशेष सत्र (Punjab Assembly) में शुक्रवार को अकाली विधायक नदारद रहे. अकाली विधायकों ने विधानसभा के बाहर इस विशेष सत्र का समय बढ़ाने को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान पीपीसीसी प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के नेतृत्व में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) का विरोध करने वाला खेमा पिछली बेंचों पर बैठा नजर आया. अपनी ही सरकार के खिलाफ हुए चार बागी मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, सुखजिंदर सिंह रंधावा, सुख सरकारिया और चरणजीत सिंह चन्नी मुख्यमंत्री से कुछ ही दूरी पर बैठे थे, हालांकि पिछले सभी सत्रों में उनकी सीटें सीएम की सीट के पास थीं.

    सदन में जैसे ही श्रद्धांजलि सभा समाप्त हुई, राणा गुरमीत सोढ़ी ने सदन से उन प्रख्यात खिलाड़ियों निर्मल मिल्खा सिंह और यशपाल शर्मा को सूची में शामिल करने की अनुमति मांगी, जिनके निधन पर सदन ने शोक व्यक्त किया था. उप नेता प्रतिपक्ष सर्वजीत कौर मनुके और शरणजीत सिंह ढिल्लों ने मांग की कि जारी किसान संघर्ष में मारे गए किसानों और खेत मजदूरों को भी सूची में शामिल किया जाए.

    यह भी पढ़ें: Punjab Congress Update: ‘मैं यह नहीं कहूंगा कि सब ठीक है’, पंजाब कांग्रेस पर हरीश रावत ने दिया बड़ा बयान

    शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा कि सरकार जनता के मुद्दों पर बात करने से बचना चाहती है. इसलिए सरकार सदन का समय नहीं बढ़ाना चाहती है. अकाली दल के विधायक हाथों में तख्तियां लेकर पहुंचे थे. मजीठिया ने कांग्रेस सहित अन्य राजनीतिक दलों पर राज्य का माहौल खराब करने का आरोप लगाया और कहा कि ये राजनीतिक दल अशांति फैलाकर राज्य में  राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं.

    उधर, आम आदमी पार्टी के विधायकों ने सदन का किसी भी तरह से विरोध करने से इनकार किया है. आप का कहना है कि गुरु तेग बहादुर के 400 वें ‘प्रकाश पर्व’ के मौके पर पंजाब विधानसभा का एक दिवसीय विशेष सत्र बुलाया गया है इसलिए गुरु साहिबान के सम्मान में वे सदन का विरोध नहीं करेंगे.

    Tags: Navjot singh sidhu, Punjab Assembly Session, Shiromani Akali Dal

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर