• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • अलीगढ़ हत्‍याकांड: असलम, जाहिद और उसकी पत्‍नी ने कत्‍ल कर फ्रिज में रखा दी थी मासूम की लाश

अलीगढ़ हत्‍याकांड: असलम, जाहिद और उसकी पत्‍नी ने कत्‍ल कर फ्रिज में रखा दी थी मासूम की लाश

न्‍यूज़8 द्वारा बनाई गई ईमेज (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

न्‍यूज़8 द्वारा बनाई गई ईमेज (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

मामले की जांच कर रही एसआईटी टीम को यह भी आशंका है कि बच्‍ची की हत्‍या के बाद शव को फ्रिज में रखा गया था.

  • Share this:
    अलीगढ़ में ढाई साल की बच्‍ची से दिल दहला देने वाली वारदात ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. बच्‍ची की निर्मम हत्‍या के मामले में पुलिस भी सख्‍त हो गई है. इस मामले में पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है. वहीं एसआईटी की जांच में एक बड़ा खुलासा भी सामने आया है. मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपी मोहम्‍मद जाहिद और मोहम्‍मद असलम ने बच्‍ची के परिवार से बदला लेने के लिए घटना को अंजाम दिया था.

    मामले की जांच कर रही एसआईटी टीम को यह भी आशंका है कि बच्‍ची की हत्‍या के बाद शव को फ्रिज में रखा गया था. बच्‍ची के शव को असलम के घर के भूसे में रखा गया था. लेकिन पुलिस को शक है कि लाश को नमी वाली जगह पर रखा गया था.

    पुलिस ने इस मामले में अब तक चार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने मुख्य आरोपी ज़ाहिद और उसकी पत्नी शाहिस्ता समेत 4 लोग गिरफ्तार किया है. एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि जाहिद की पत्नी शाहिस्ता के दुपट्टे में बच्ची का शव लिपटा हुआ था. साथ ही एसएसपी आकाश कुलहरि ने कहा कि हम पीड़ित परिवार से मिले और उन्होंने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की है. इस मामले में चार्जशीट दाखिल किया गया है.

    ये भी पढ़ें: बरेली: सुनसान कब्रिस्तान में 8 साल की बच्ची से रेप, आरोपी गिरफ्तार

    बताया जा रहा है कि गिरफ्तार आरोपी मेंहदी हसन मुख्य आरोपी जाहिद का भाई है. फिलहाल पुलिस मेंहदी हसन से पूछताछ में जुटी हुई है. मेंहदी पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है. बताया जा रहा है कि जिस दिन मासूम बच्ची का शव मिला, उसी दिन लोगों ने मेंहदी की जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद से वे फरार हो गया था. इससे पहले पुलिस ने दो आरोपियों जाहिद और असलम को गिरफ्तार किया था.

    ये भी पढ़ें: अलीगढ़ में हुई ढाई साल की बच्ची की हत्या के मामले में ट्वीट कर फंसी सोनम कपूर!

    बता दें कि अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुलहरि ने शुक्रवार को इंस्पेक्टर केपी सिंह चहल सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था. बताया जा रहा है कि इन पर देरी से गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखने के अलावा, बच्ची की खोज और हत्या के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी में लापरवाही बरतने का आरोप है. आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज