जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले का खतरा, हाई अलर्ट पर तीनों सेनाएं

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में हालात खराब करने के लिए पाकिस्तान (Pakistan) के आतंकी संगठन हमला कर सकते हैं

News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 7:43 PM IST
जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले का खतरा, हाई अलर्ट पर तीनों सेनाएं
जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले का खतरा. (सांकेतिक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 7:43 PM IST
जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी का माहौल खराब करने के लिए पाकिस्तान (Pakistan) के आतंकी संगठन हमले की योजना बना रहे हैं. इसे देखते हुए सभी भारतीय सेनाओं और सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट (High Alert) पर रखा गया है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है.



जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव बी वी आर सुब्रमण्यम ने कहा कि शुक्रवार की प्रार्थना के बाद पूरे राज्य में स्थिति सामान्य रही. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में और छूट बढ़ाई जाएगी. उन्होंने कहा कि कश्मीर में चरणबद्ध और व्यवस्थित तरीके से पाबंदियों में ढील दी जाएगी और सप्ताहांत तक कश्मीर में ज्यादातर फोन लाइनें बहाल कर दी जाएंगी और विद्यालय अगले हफ्ते खुल जायेंगे.

सामान्य ढंग से हुआ कामकाज

सुब्रमण्यम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि घाटी में शुक्रवार को राज्य सरकार के कार्यालयों में सामान्य ढंग से कामकाज हुआ और कई कार्यालयों में तो उपस्थिति बिल्कुल अच्छी रही. उन्होंने कहा कि पांच अगस्त को जब पाबंदियां लगायी गयीं, तब से न किसी की जान गयी और न कोई घायल हुआ.

5 अगस्त को हटाया गया था अनुच्छेद 370
पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को निरस्त कर दिया गया था और उसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांट दिया गया था. सुब्रमण्यम ने कहा, "आज जुम्मे की नमाज के बाद मिली रिपोर्ट के अनुसार राज्यभर में सबकुछ शांतिपूर्ण रहा. आतंकवादी संगठनों, कट्टरपंथी समूहों और पाकिस्तान की स्थिति बिगाड़ने की लगातार कोशिश के बावजूद हमने किसी की भी जान नहीं जाने दी."
Loading...

ये भी पढ़ेंगे: जम्मू-कश्मीर में कल से बहाल होगी टेलिफोन सेवा, स्कूल-कॉलेज भी खुलेंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 7:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...