COVID Vaccination In India: 1 मई से 18+ का वैक्सीनेशन, यहां जानें कैसे होगा रजिस्ट्रेशन, क्या है प्रक्रिया

 देश में अब 18 साल से ऊपर की उम्र के लोगों का भी वैक्सीनेशन होगा. (AP Photo/Anupam Nath)

देश में अब 18 साल से ऊपर की उम्र के लोगों का भी वैक्सीनेशन होगा. (AP Photo/Anupam Nath)

1 मई से शुरू हो रहे टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत टीका निर्माता अपनी केंद्रीय औषधि प्रयोगशालाओं (CDL) से हर महीने जारी खुराकों की 50 प्रतिशत आपूर्ति केंद्र सरकार को देंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 8:54 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने सोमवार को कहा कि एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोग कोविड-19 से रोकथाम के लिए टीका (Anti Covid Vaccination) लगवा सकेंगे. सरकार ने टीकाकरण अभियान में ढील देते हुए राज्यों, निजी अस्पतालों और औद्योगिक प्रतिष्ठानों को सीधे टीका निर्माताओं से खुराक खरीदने की अनुमति भी दे दी.

अगले महीने से शुरू हो रहे टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत टीका निर्माता अपनी केंद्रीय औषधि प्रयोगशालाओं (सीडीएल) से हर महीने जारी खुराकों की 50 प्रतिशत आपूर्ति केंद्र सरकार को देंगे और बाकी 50 प्रतिशत आपूर्ति को वे राज्य सरकारों को तथा खुले बाजार में बेचने के लिए स्वतंत्र होंगे. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक आधिकारिक बयान के अनुसार टीका उत्पादकों को राज्य सरकारों को और खुले बाजार में उपलब्ध होने वाली 50 प्रतिशत आपूर्ति की कीमत एक मई, 2021 से पहले घोषित करनी होगी.

कैसे करें रजिस्ट्रेशन

अगर आप 1 मई 2021 को 18 वर्ष या उससे ऊपर हैं तो वैक्सीनेशन के लिए सबसे पहले आपको रजिस्ट्रेशन कराना होगा. कोविन, आरोग्य सेतु ऐप के जरिए रजिस्ट्रेशन हो सकता है. इसके साथ ही ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन यानी अस्पतालों और टीकाकण केंद्रों पर भी रजिस्ट्रेशन की सुविधान होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए आपसे वैध पहचान पत्र की जरूरत होगी जिसमें आधार कार्ड, डीएल, पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड शामिल है.
वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है. पात्र व्यक्ति चरण-दर-चरण प्रक्रिया के माध्यम से अपने मोबाइल नंबर के माध्यम से को-विन पोर्टल पर पंजीकरण कर सकेंगे. पहले को-विन एप्लिकेशन का उपयोग करें, या www.cowin.gov.in पर लॉग ऑन करें. अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें. अपना अकाउंट बनाने के लिए ओटीपी मिलेगी. ओटीपी दर्ज कर और 'वेरिफाइ' बटन पर क्लिक करें. इसके बाद आप वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन से जुड़े पेज पर रिडायरेक्ट हो जाएंगे. यहां आपको फोटो आईडी प्रूफ चुनना होगा. इसके साथ हीअपना नाम, उम्र, लिंग की जानकारी देकर और जो आईडी प्रूफ चुना है उसे अपलोड करें. रजिस्ट्रेशन के लिए जानकारी दर्ज करने के बाद, 'रजिस्टर' बटन पर क्लिक करें.

इसी मूल्य के आधार पर राज्य सरकारें, निजी अस्पताल, औद्योगिक प्रतिष्ठान आदि पक्ष टीका निर्माताओं से टीकों की खुराक खरीद सकेंगे. निजी अस्पतालों को केंद्र सरकार के माध्यम से आने वाली खुराकों के अतिरिक्त 50 प्रतिशत आपूर्ति से ही विशेष रूप से अपनी टीकों की खेप खरीदनी होगी. बयान के अनुसार निजी टीका उत्पादकों को अपने स्व-निर्धारित मूल्य को पारदर्शिता के साथ घोषित करना होगा और इस माध्यम से सभी वयस्क (18 साल से अधिक उम्र के लोग) टीका लगाने के लिए पात्र हो जाएंगे.

समस्त टीकाकरण ‘राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम’ की उदारीकृत और त्वरित चरण-3 की रणनीति के तहत किया जाएगा.सभी टीकाकरण केंद्रों में टीकों के भंडार और प्रति खुराक का मूल्य भी वास्तविक समय के आधार पर बताना होगा. बयान में कहा गया, ‘भारत सरकार उपयोग के लिए पूरी तरह तैयार आयातित टीकों को केंद्र सरकार के चैनल से इतर पूरी तरह इस्तेमाल की अनुमति देगी.’



देश में अभी तक 12,38,52,566 लोगों को लगे टीके

स्वास्थ्य कर्मियों, अग्रिम मोर्चे पर रहकर काम करने वाले लोगों और 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए टीकाकरण पहले की तरह सरकारी केंद्रों पर नि:शुल्क होगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका लगाने की अनुमति देने का फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में लिया गया.

बयान के अनुसार, ‘प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार इस बात के लिए एक साल से अधिक समय से कड़ी मेहनत कर रही है कि कम से कम संभव समय में अधिक से अधिक भारतीयों को टीके लग सके. उन्होंने कहा कि भारत में विश्व में रिकॉर्ड रफ्तार से लोगों का टीकाकरण हो रहा है और हम इसे और अधिक रफ्तार से जारी रखेंगे.’



सरकार का यह फैसला ऐसे समय में आया है जब देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या डेढ़ करोड़ के पार पहुंच चुकी है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार देश में अभी तक 12,38,52,566 लोगों को टीकों की खुराक लग चुकी है. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज