जानिए क्या हैं तिरुपति में होने वाले वार्षिक ब्रह्मोत्सव की तैयारियां

13 से शुरु हो रहा है नौ दिनों का आयोजन, 4000 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी लगाए गए, 7000 से ज्यादा वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था

News18Hindi
Updated: September 11, 2018, 6:24 PM IST
जानिए क्या हैं तिरुपति में होने वाले वार्षिक ब्रह्मोत्सव की तैयारियां
तैयारियों की जानकारी देते देवस्थानम् में अधिकारी
News18Hindi
Updated: September 11, 2018, 6:24 PM IST
वी जनार्दन

तिरुमाला में 13 सिंतबर से होने वाले नौ दिनों के सालाना ब्रह्मोत्सव की तैयारियां पूरी कर ली गईं हैं. तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम् (टीटीडी) के कार्यपालक अधिकारी (ईओ) अनिल कुमार सिंघल ने ये जानकारी देते हुए बताया कि पहले दिन आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडु आयोजन के पहले दिन रेशमी अंगवस्त्रम् भेट करेंगे.

ये भी पढ़ें : मन्नत हुई पूरी तो चंद्रशेखर राव ने तिरुमाला में चढ़ाए 5 करोड़ के गहने

कार्यक्रम में अन्य विशेष आयोजनों में गरुड़ सेवा इसी महीने की 17, स्वर्ण रत्नम् 18, रथोत्सवम् 20 और चक्र स्नानम् 21 तारीख को होने हैं. इस वर्ष वाहन सेवा शाम आठ बजे और गरुड़ सेवा शाम सात बजे आयोजित होगी.

ये भी पढ़ें : भगवान के गहनों का 52 हजार करोड़ का बीमा

सुरक्षा इंतेजामों पर श्री सिंघल ने बताया कि निमयमित सुरक्षा के अतिरिक्त 3000 पुलिसकर्मी इस बार सुरक्षा में लगाए जा रहे हैं. साथ ही गरुड़ सेवा में 1000 और लोगों को लगाया जाएगा और स्काउट गाइड के जवान भी रहेंगे. इसके अतिरिक्त एनडीआरएफ और विशेषज्ञों के दल भी सुरक्षा के काम में लगाए जाएंगे.

ये भी पढ़ें : अज्ञात भक्त ने तिरुपति में 6 करोड़ की स्वर्ण पादुका भेंट की
Loading...
ईओ ने बताया कि इस वर्ष 7000 वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था की जा रही है. इन दिनों में घाट रोड़ चौबीस घंटे खुली रखी जाएगी. साथ ही मणिपुर, गुजरात और उत्तर प्रदेश के सांस्कृतिक कर्मियों के दल भी बुलाए गए हैं.

ये भी पढ़ें : बालों की नीलामी कर तिरुपति मंदिर ने कमाए 7.84 करोड़ रुपये

तिरुमाला के जेइओ के एस श्रीनिवास राजू ने बताया कि गरुड़ सेवा के दिन विशेष दर्शन के लिए प्रवेश नहीं होंगे. साथ ही सर्व दर्शनम के टोकेन भी नहीं जारी किए जाएंगे. 16 और 17 सितंबर को दिव्यदर्शनम टोकेन भी नहीं जारी किए जाएंगे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर