Home /News /nation /

नया कानून बनने के बाद तीन तलाक दिया तो क्या होगा!

नया कानून बनने के बाद तीन तलाक दिया तो क्या होगा!

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

तीन तलाक विरोधी बिल को पिछले साल दिसम्‍बर में लोकसभा में विपक्ष के विरोध के बीच पारित कर दिया गया था. लेकिन अभी तक इस पर राज्‍यसभा में गतिरोध बना हुआ है.

    सुप्रीम कोर्ट ने 22 अगस्त, 2017 को एक बार में तीन तलाक को असंवैधानिक घोषित किया था. कोर्ट ने कहा था कि इस तरीके से दिए गए तलाक को कानूनी रूप से तलाक नहीं माना जाएगा. इस प्रस्तावित कानून के तहत एक बार में तीन तलाक देना गैरकानूनी और अमान्य होगा और ऐसा करने वाले को तीन साल तक की सजा हो सकती है. आइये जानते हैं कि नया कानून बनने के बाद तीन तलाक दिया तो क्या होगा!

    तीन तलाक बिल है क्या?
    इस बिल के मुताबिक तीन तलाक गैरकानूनी होगा. बिल के क्लॉज नंबर 3 के मुताबिक अगर कोई शौहर अपनी पत्नी को मुंह जुबानी, लिखकर या किसी इलेक्ट्रानिक माध्यम से तीन बार तलाक कहता है तो वो गैर कानूनी होगा.

    अगर तीन तलाक दिया तो क्या होगा?
    अगर किसी  ने अपनी पत्नी को तीन तलाक दिया तो उस पर कानूनी कार्रवाई होगी.  उस पर आर्थिक जुर्माना भी लगेगा. बिल के मुताबिक तलाक-ए-बिद्दत गैर जमानती अपराध होगा. बिल के क्लॉज नंबर चार के मुताबिक, 'जो भी शख्स अपनी पत्नी को तीन तलाक देता है उसे जेल जाना होगा और उसकी सजा तीन साल तक हो सकती है.' बिल के क्लॉज नंबर 7 के मुताबिक, 'इस एक्ट के अंतर्गत तीन तलाक गैरजमानती और कॉगनीजेबल क्राइम होगा यानी पुलिस थाने से आरोपी को जमानत नहीं मिल सकेगी.'

    बिल से मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों की कैसे रक्षा कैसे होगी?
    जिस महिला को तीन तलाक दिया गया होगा उसे उसके पति की तरफ से खर्चा मिलेगा और बच्चों की कस्टडी उसके पास ही होगी. बिल के क्लॉज नंबर 5 और 6 के मुताबिक, 'जिस मुस्लिम महिला को तीन तलाक दिया गया है उसका अधिकार होगा कि वो अपने पति से अपने और बच्चों के लिए एक निश्चित धनराशि की मांग कर सकती है. इसके अलावा तीन तलाक होने के बाद बच्चे की कस्टडी भी मां के पास ही रहेगी.



     

    Tags: Triple talaq, Triple Talaq Bill, Triple talaq in india

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर