'कोरोना से निपटने के तरीके को लेकर पूरी दुनिया में हुई मोदी सरकार की सराहना'

'कोरोना से निपटने के तरीके को लेकर पूरी दुनिया में हुई मोदी सरकार की सराहना'
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि मोदी सरकार की तारीफ वैश्विक स्तर पर हुई है. (फाइल फोटो)

बीजेपी अध्यक्ष (BJP President) जेपी नड्डा (JP Nadda) ने आज वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से नयी दिल्ली से झारखंड प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने कोरोना संकट से सामने से मुकाबला किया और ‘जान है तो जहान है,’ का नारा बुलंद कर देश के 130 करोड़ लोगों रक्षा की.’

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2020, 7:38 PM IST
  • Share this:
रांची. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष (National President) जेपी नड्डा (JP Nadda) ने सोमवार को कहा कि केन्द्र सरकार ने कोरोना संकट से सामने से मुकाबला कर देश के 130 करोड़ लोगों की रक्षा की जिसकी पूरी दुनिया ने सराहना की है. नड्डा ने आज वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से नयी दिल्ली से झारखंड प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने कोरोना संकट से सामने से मुकाबला किया और ‘जान है तो जहान है,’ का नारा बुलंद कर देश के 130 करोड़ लोगों रक्षा की.’

शक्तिशाली देश संशय में थे तब भारत ने उठाए कठोर कदम
उन्होंने कहा, ‘कोरोना संक्रमण के इस विनाशकारी समय में, जब अमेरिका, ब्रिटेन समेत तमाम बड़े और शक्तिशाली देश अनेक तरह के संशय में थे, उस समय भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट कहा, ‘जान है तो जहान है,’ और इसी सिद्धान्त के आधार पर पूरे देश में लॉकडाउन कर 130 करोड़ भारतवासियों की रक्षा की.’

युद्धस्तर पर की गई तैयारी
नड्डा ने कहा, ‘प्रधानमंत्री ने 130 करोड़ के भारत देश को बचाने का काम किया. इतना ही नहीं कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए जिस प्रकार युद्धस्तर पर तैयारी की गई उसका परिणाम है कि जहां कोरोना संक्रमण के प्रारंभ में मार्च में देश में एक दिन में सिर्फ 15 लोगों के जांच की व्यवस्था थी वहीं आज देश में एक दिन में 11 लाख तक जांच किये जा रहे हैं.’



पीएम मोदी के नेतृत्व में देश बदला
उन्होंने कहा, ‘यह मोदी जी के नेतृत्व में बदलता देश है. हम सिर्फ सत्ता के लिए या कुर्सी के लिए नहीं आये हैं. हम सत्ता में भारत की तस्वीर और तकदीर बदलने आये हैं.’ उन्होंने कहा कि जहां कोरोना के प्रारंभिक काल में मार्च में देश में वेंटिलेटर बनते नहीं थे वहीं अब देश ने तीन लाख वेंटिलेटर बना दिये हैं. भारत में साढ़े चार लाख पीपीई किट्स प्रतिदिन बन रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत ने पूरी दुनिया के कम से कम तीस देशेां को ‘क्लोरोक्विन’ दवाओं की आपूर्ति की है जिससे समूचे विश्व में देश की प्रतिष्ठा बढ़ी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज