तनाव के बीच रूस में आमने-सामने होगी भारत-पाक की सेनाएं

Sandeep Bol | News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 6:39 PM IST
तनाव के बीच रूस में आमने-सामने होगी भारत-पाक की सेनाएं
JAMMU, INDIA - OCTOBER 10: Indian army soldiers take position near the Line of Control on October 10, 2016 in Nowshera sector, about 145 km from Jammu, India. (Photo by Nitin Kanotra/Hindustan Times via Getty Images)

पाकिस्तान (Pakistan) भी इस अभ्यास में जरूर शामिल होगा क्योंकि वह रूस (Russia) के न्योते को किसी भी हाल में ठुकराने का जोखिम नहीं उठा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2019, 6:39 PM IST
  • Share this:
भारत-पाकिस्तान (India-Pakistan) के बीच तनाव लगातार जारी है. पाकिस्तानी सेना जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में कई बार सीज फायर का उल्लंघन कर चुकी है, जिसका भारतीय सेना (Indian Army) मुंहतोड़ जवाब दे रही है. भारतीय सेना अब रूस में भी पाकिस्तान (Pakistan) को नाकों चने चबवाने जा रही है. दरअसल दोनों देशों की सेनाएं रूस में होने वाले सैन्य अभ्यास में आमने-सामने होने वाली है.

रूस के ऑरनबर्ग में 10 सितंबर से 23 सितंबर के बीच मल्टीलेटेरल एक्सरसाइज- सैंटर 2019 आयोजित होनी है. ये रूस का कमांडो लेवल का सैन्य अभ्यास है. यह पहली बार है जब इस अभ्यास में शामिल होने के लिए शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) देशों की सेनाओं को न्योता दिया गया है. भारतीय सेना इस अभ्यास में शामिल हो रही है.

इससे पहले अगस्त 2018 में पहली बार भारत और पाकिस्तान की सेनाओं ने एक साथ मिलकर एससीओ के बैनर तले सैन्य अभ्यास किया था. तब इस अभ्यास की खूब चर्चा हुई थी. इस अभ्यास में चीन ने भी शिरकत की थी.



अभ्यास में हिस्सा लेगा पाकिस्तान
माना जा रहा है कि पाकिस्तान भी इस अभ्यास में जरूर शामिल होगा क्योंकि वह रूस के न्योते को किसी भी हाल में ठुकराने का जोखिम नहीं उठा सकता है. पाकिस्तान अंतरर्राष्ट्रीय समुदाय में पहले ही अलग-थलग पड़ा है इसलिए वह रूस जैसे ताकतवर देश को मना करके उसे नाराज नहीं करेगा. हालांकि किसी भी एससीओ देश पर इस अभ्यास में शामिल होने का दबाव नहीं है.

2014 में एससीओ में शामिल हुआ था भारत
Loading...

बता दें कि भारत 2014 में शंघाई सहयोग संगठन की सदस्यता के लिए आवेदन किया था और 2015 में इसे संगठन का सदस्य का दर्जा मिलने का ऐलान किया गया. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए भारत और पाकिस्तान की सदस्यता मंजूर करने की घोषणा की थी.

ये भी पढ़ें: हर जगह कश्मीर मुद्दे पर फेल PAK अब UN में करेगा ड्रामेबाजी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 6:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...