• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • US Drone Strike ISIS: अमेरिका ने काबुल धमाकों का लिया बदला, इस्लामिक स्टेट के साजिशकर्ता को मार गिराने का दावा

US Drone Strike ISIS: अमेरिका ने काबुल धमाकों का लिया बदला, इस्लामिक स्टेट के साजिशकर्ता को मार गिराने का दावा

हवाईअड्डे पर हुए आत्मघाती बम धमाकों में करीब 169 लोगों की मौत हो गई थी. इस आतंकी हमले में जान गंवाने वालों में 13 अमेरिकी सैनिक भी शामिल हैं.

हवाईअड्डे पर हुए आत्मघाती बम धमाकों में करीब 169 लोगों की मौत हो गई थी. इस आतंकी हमले में जान गंवाने वालों में 13 अमेरिकी सैनिक भी शामिल हैं.

US Drone Strike ISIS-K : पेंटागन ने बयान जारी कर बताया कि काबुल हवाईअड्डे पर घातक बम धमाकों के जवाब में अमेरिका अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट के ठिकाने पर हवाई हमले किए. अमेरिकी अधिकारियों ने इस ड्रोन हमले में काबुल बम धमाके के मुख्य साजिशकर्ता को मार गिराने का दावा किया है.

  • Share this:

    वॉशिंगटन. अमेरिका ने शनिवार को तड़के खुद को इस्लामिक स्टेट (US Drone Strike ISIS) कहने वाले आतंकवादी संगठन के खिलाफ ड्रोन हमले किए हैं. अमेरिका ने काबुल एयरपोर्ट पर हुए आत्मघाती बम धमाकों (Kabul Airport Blast) के 48 घंटे से भी कम समय में यह जवाबी कार्रवाई की है, जिसमें हमले के साजिशकर्ता के मारे जाने का दावा किया जा रहा है. हवाईअड्डे पर हुए आत्मघाती बम धमाकों में करीब 169 लोगों की मौत हो गई थी. इस आतंकी हमले में जान गंवाने वालों में 13 अमेरिकी सैनिक भी शामिल हैं. इस्लामिक स्टेट के खुरासान मॉडल ने (ISIS-K) इन बम धमाकों की जिम्मेदारी ली थी. वहीं अमेरिका, काबुल एयरपोर्ट पर एक और हमले की आशंका जता चुका है और अपने नागरिकों से तत्काल वहां से निकलने का आग्रह किया है.

    सेना ने ये हमले नांगहर प्रांत में किए हैं. सुरक्षा कारणों के चलते अमेरिकी नागरिकों को एयरपोर्ट पर अलग-अलग गेट्स से ‘तत्काल’ निकलने के लिए कहा गया है. यूएस सेंट्रल कमांड के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने बयान जारी किया, ‘अमेरिकी सैन्य बलों ने एक ISIS-K प्लानर के खिलाफ आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया. यह मानवरहित हवाई हमला अफगानिस्तान के नांगहर प्रांत में हुआ. शुरुआती संकेत मिले हैं कि हमने लक्षित व्यक्ति को मौत के घाट उतार दिया. हमारे पास किसी भी असैन्य व्यक्ति के न मारे जाने की जानकारी है.’

    यह भी पढ़ें: Kabul Blast: काबुल हवाई अड्डे पर फिर हो सकता है आतंकी हमला, अमेरिकी सेना हुई अलर्ट

    कैप्टन अर्बन ने कहा, ‘यह मानवरहित हमला अफगानिस्तान के नानगहर प्रांत में हुआ है.’ उन्होंने जानकारी दी, ‘शुरुआती संकेत मिलें हैं कि हमने लक्ष्य को खत्म कर दिया है. हमें किसी आम नागिरक की मौत की जानकारी नहीं है.’ एयरपोर्ट पर हुए धमाके को दो दशकों का सबसे बड़ा हमला कहा जा रहा है. व्हाइट हाउस प्रेस सचिव जेन साकी ने शुक्रवार को बताया कि अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि ‘काबुल में एक और आतंकी हमले की संभावना है.’ उन्होंने कहा, ‘जोखिम अभी भी जारी है और यह सक्रिय है. हमारे सैनिक अभी भी खतरे में हैं.’

    व्हाइट हाउस और पेंटागन ने चेतावनी दी है कि अमेरिकी बलों की वापसी और एयरलिफ्ट को बंद करने की नजदीक आ रही अंतिम तारीख से पहले और भी खून बह सकता है. साकी ने कहा लोगों की निकालने की प्रक्रिया में आने वाले कुछ दिन ‘अब तक का हमारा सबसे खतरनाक समय होगा.’
    इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने हमले में मारे गए 13 अमेरिकी सैनिकों की मौत का बदला लेने की प्रतिबद्धता जतायी और इसके लिए जिम्मेदार आतंकवादियों से कहा, ‘हम तुम्हें मार गिरायेंगे और तुम इसकी कीमत चुकाओगे.’ बाइडन ने बृहस्पतिवार को व्हाइट हाउस में कहा, ‘जिन्होंने यह हमला किया और साथ ही जो अमेरिका को नुकसान पहुंचाना चाहता हैं, उन्हें बता दूं कि हम बख्शेंगे नहीं. हम भूलेंगे नहीं. हम तुम्हें मार गिराएंगे और तुम इसकी कीमत चुकाओगे। मैं अपने हितों और अपने लोगों की रक्षा करूंगा.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज