Home /News /nation /

america indian ceo post about friendship pakistani girl harvard sneha biswas linkedin early steps academy pakistan rks

हार्वर्ड में पाकिस्तानी लड़की से दोस्ती करने में लगे महज 5 सेकेंड, सीईओ ने शेयर की अपनी कहानी

भारतीय ने पाकिस्तानी से दोस्ती की पोस्ट शेयर की (linkedin.com/Sneha Biswas )

भारतीय ने पाकिस्तानी से दोस्ती की पोस्ट शेयर की (linkedin.com/Sneha Biswas )

स्नेहा बिस्वास ने अपनी पाकिस्तानी दोस्त के बारे में सोशल मीडिया साइट लिंक्डइन पर बताया कि उसे चाय और बिरयानी के साथ ही फाइनेंस मॉडल और केस स्टडी के बारे में काफी बेहतर जानकारी है.

हाइलाइट्स

स्नेहा बिस्वास ने अपनी पाकिस्तानी दोस्त के बारे में लिंक्डइन पर बताया
स्नेहा बिस्वास ने इसे बताया 'बाधाओं को तोड़ने वाली' दोस्ती
एक-दूसरे को पसंद करने में लगा केवल 5 सेकंड

नई दिल्ली. एक भारतीय सीईओ ने सोशल मीडिया साइट लिंक्डइन पर हाल ही में एक पोस्ट में अमेरिका में अपनी पढ़ाई के दौरान एक पाकिस्तानी महिला के साथ हुई अपनी दोस्ती का ब्योरा शेयर किया है. इस पोस्ट की यूजर्स दिल खोलकर तारीफ कर रहे हैं. अर्ली स्टेप्स एकेडमी की संस्थापक स्नेहा बिस्वास ने 9 अगस्त को सोशल मीडिया साइट पर हार्वर्ड विश्वविद्यालय में एक साथी छात्र के साथ ‘बाधाओं को तोड़ने वाली’ दोस्ती कायम करने के बारे में पोस्ट किया था.

अपनी पोस्ट में उन्होंने लिखा, ‘भारत के एक छोटे से शहर में पली-बढ़ी होने के कारण पाकिस्तान के बारे में मेरी जानकारी क्रिकेट, इतिहास की किताबों और मीडिया तक ही सीमित थी. यह सब प्रतिद्वंद्विता और नफरत के इर्द-गिर्द घूमता था. दशकों बाद मैं इस लड़की से मिली. वह इस्लामाबाद, पाकिस्तान से है. मैं उससे हार्वर्ड बिजनेस स्कूल में अपने पहले दिन मिली थी. हमें एक-दूसरे को पसंद करने में 5 सेकंड का समय लगा और पहले सेमेस्टर के अंत तक वह कैंपस में मेरी सबसे करीबी दोस्तों में से एक बन गई.’

स्नेहा बिस्वास ने अपनी दोस्त के बारे में सोशल मीडिया साइट लिंक्डइन पर बताया कि उसे चाय और बिरयानी के साथ ही फाइनेंस मॉडल और केस स्टडी पेश करने के बारे में काफी बेहतर जानकारी है. स्नेहा बिस्वास का स्टार्टअप छात्रों को जलवायु परिवर्तन से लेकर क्रिप्टोकरेंसी तक के विषयों में जानकारी देता है. स्नेहा बिस्वास ने ये भी ​​​​कहा कि वह अपनी दोस्त की महत्वाकांक्षी प्रकृति से काफी प्रेरित थीं.

भारत के लेफ्टिनेंट जनरल मोहन सुब्रमण्यम बने UNMISS के नए फोर्स कमांडर

बिस्वास ने लिखा, ‘पाकिस्तान जैसे समाज में रहने के बावजूद उनके माता-पिता ने उन्हें और उनकी छोटी बहन को रूढ़ियों को तोड़ने और अपने सपनों को पूरा करने का साहस दिया. उनकी निडर महत्वाकांक्षाओं और साहस के साथ विकल्पों पर काम करने की कहानियों ने मुझे प्रेरित किया.’ द अर्ली स्टेप्स एकेडमी की सीईओ ने कहा कि पाकिस्तानी लड़की से मिलने के बाद वह समझ गई कि लोगों के लिए प्रेम सीमाओं से परे है. उन्होंने कहा, ‘सीमाएं इंसानों ने बनाई हैं. यह सब दिमाग को समझ में आता है, लेकिन दिल अक्सर उन्हें समझने में विफल रहता है.’ इस पोस्ट को लगभग 42,900 लाइक और 366 शेयर मिल चुके हैं.

Tags: America, India

अगली ख़बर