अपना शहर चुनें

States

Bird Flu: केरल में बर्ड फ्लू को लेकर राजकीय आपदा घोषित, मंदसौर-बंगलुरु में चिकन शॉप बंद

कोट्टायम जिला प्रशासन ने कहा कि नींदूर में एक बत्तख पालन केंद्र में बर्ड फ्लू पाया गया है.
कोट्टायम जिला प्रशासन ने कहा कि नींदूर में एक बत्तख पालन केंद्र में बर्ड फ्लू पाया गया है.

कोट्टायम जिला प्रशासन ने कहा कि नींदूर में एक बत्तख पालन केंद्र में बर्ड फ्लू (Bird Flu) पाया गया है. वहां 1,200 से ज्यादा बत्तख मर चुकी हैं. इसी तरह अलप्पुझा जिले के कुट्टानद के कुछ फार्म में भी बर्ड फ्लू के मामले सामने आए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 5, 2021, 2:58 PM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. कोरोना वायरस (Coronavirus Vaccine) की वैक्सीन आने पर थोड़ी राहत की खबर मिली थी, लेकिन अब एक नया संकट गहराता जा रहा है. मध्य प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश के बाद केरल में बर्ड फ्लू (Bird Flu) फैल गया है. केरल ने तो इसे राजकीय आपदा (State Disaster) घोषित कर दिया है. वहीं, मध्य प्रदेश के मंदसौर और कर्नाटक के बंगलुरु में चिकन और अंडे के शॉप फिलहाल बंद रहेंगे.

दरअसल, कोट्टायम जिला प्रशासन ने कहा कि नींदूर में एक बत्तख पालन केंद्र में बर्ड फ्लू पाया गया है. वहां 1,200 से ज्यादा बत्तख मर चुकी हैं. सूत्रों के मुताबिक, इसी तरह अलप्पुझा जिले के कुट्टानद के कुछ फार्म में भी बर्ड फ्लू के मामले सामने आए हैं. इसके बाद वायरस के प्रसार को रोकने के लिए एहतियान 40,000 पक्षियों को मारने का आदेश जारी किया गया है.

केरल के मंत्री के राजू ने इस बात की पुष्टि की है कि पांच से 8 सैंपल में वायरस के प्रमाण मिले हैं. बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि भले ही अभी पोल्ट्री पक्षियों में कोई लक्षण नहीं दिखे हों, लेकिन फिर भी पोल्ट्री व पोल्ट्री उत्पाद बाजार, फार्म, जलाशयों एवं प्रवासी पक्षियों पर विशेष निगरानी रखी जाए.



हिमाचल में बर्ड फ्लू की पुष्टि: पौंग झील के आसपास अब तक 1900 विदेशी पक्षियों की मौत
हरियाणा में 1 लाख मुर्गियों की मौत
हरियाणा के अंबाला और पंचकूला के बीच स्थित बरनाला बेल्ट में 1 लाख मुर्गियों की मौत हो चुकी है. इन्हें जलाया जा रहा है या दबाया जा रहा है. माना जा रहा है कि मुर्गियों की मौत भी H5N1 वायरस के चलते हुई है. वहीं, कुछ मुर्गियों के सैंपल लैब टेस्ट के लिए भेजे गए हैं, जहां से आज शाम तक रिपोर्ट आने की संभावना है.

मध्य प्रदेश में 376 कौओं की मौत
मध्य प्रदेश में 23 दिसंबर से 3 जनवरी तक 376 कौओं की मौत हो चुकी है. इनमें से सबसे ज्यादा 142 मौतें इंदौर में हुई हैं. इसके अलावा मंदसौर में 100, आगर-मालवा में 112, खरगोन जिले में 13, सीहोर में 9 कौओं की मौत हुई है.

झालावाड़ में धारा 144 लागू
राजस्थान में भी कई जिलों में पक्षियों की मौत हुई है. यहां अलग अलग हिस्सों में अब तक 500 से ज्यादा पक्षियों की मौत हुई है. इसके बाद से राजस्थान में भी बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है. झालावाड़ के पक्षियों के नमूनों को जांच के लिए भोपाल के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान भेजा गया था, जिसमें बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। यहां धारा 144 लागू कर दी गई है.

भारत बायोटेक की कोवैक्सीन भी पूरी तरह सुरक्षित, लेकिन बच्चों और गर्भवती महिलाओं के लिए मंजूरी नहीं- एम्स निदेशक

हिमाचल प्रदेश में मरने वाले प्रवासी पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में स्थित पोंग बांध झील में मृत पाये गये प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू से संक्रमित पाये गये हैं. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. राजस्थान, मध्यप्रदेश और केरल के बाद देश में हिमाचल प्रदेश चौथा ऐसा राज्य बन गया है जहां बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. झील अभयारण्य में अब तक करीब 1800 प्रवासी पक्षी मरे पाये गये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज