सोनिया के इस्तीफे की खबर से बेचैन कांग्रेस नेता, बोले- मौजूदा हालात में आपकी जरूरत

सोनिया के इस्तीफे की खबर से बेचैन कांग्रेस नेता, बोले- मौजूदा हालात में आपकी जरूरत
पार्टी के कई नेता राहुल को पार्टी की कमान सौंपने के पक्ष में हैं.

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress's Interim President Sonia Gandhi) के इस्तीफे की खबर से पार्टी के नेताओं में बेचैनी देखी जा रही है. कांग्रेस के तमाम वरिष्ठ नेताओं ने सोनिया गांधी से पद पर बने रहने या फिर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को अध्यक्ष बनाने की अपील की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2020, 9:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) में नेतृत्व के संकट (Leadership Crisis) के बीच कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) नये नेतृत्व की तलाश करने की बात कही है. हालांकि इस बात पर अभी आधिकारिक मुहर नहीं लगी है कि सोनिया गांधी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष (Interim President) के पद से इस्तीफा देने वाली हैं. सोमवार को होने वाली पार्टी की कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक में उनके इस्तीफा देने की बात सामने आई है. लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने भी इस बात से इनकार कर दिया है कि सोनिया गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की है. फिर भी इसी बीच पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं की ओर से सोनिया गांधी के पद पर बने रहने या फिर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को कांग्रेस पार्टी (Congress Party) का नया अध्यक्ष बनाये जाने की मांग की जा रही है.

महाराष्ट्र कांग्रेस (Maharashtra Congress) अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने पत्र जारी कर कहा है, "राहुल को अब कांग्रेस (Congress) का नेतृत्व करना चाहिए. उनकी भावनाओं के सम्मान के साथ, हम कहना चाहेंगे, 'राहुल, वापस आइए'. जब तक वह पूर्णकालिक अध्यक्ष के रूप में पदभार नहीं संभालते, सोनिया जी को पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष के रूप में कांग्रेस परिवार (Congress Family) का नेतृत्व करना चाहिए." वहीं असम कांग्रेस के अध्यक्ष रिपुन बोरा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को पत्र लिखकर राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी देने का अनुरोध किया ताकि वह पार्टी का नेतृत्व कर सकें और भाजपा और आरएसएस से सामने से लड़ सकें.

गहलोत ने कहा सोनिया ने कर लिया हो फैसला तो राहुल गांधी संभालें जिम्मेदारी
वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी यह मांग उठाई है. उन्होंने लिखा, "कांग्रेस अध्यक्ष को पत्र लिखने वाले 23 वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं की खबर अविश्वसनीय हैं और अगर यह सच है- तो यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. इसे मीडिया में जाने की कोई आवश्यकता नहीं थी. मैं दृढ़ता से मानता हूं कि कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी को पार्टी का नेतृत्व करते रहना चाहिए इस निर्णायक मोड़ पर जहां हमारे लोकतंत्र के मूल्यों को बचाने की लड़ाई है. उन्होंने हमेशा चुनौतियों का सामना किया है. लेकिन अगर उन्होंने अपना मन बना लिया है तो- मुझे विश्वास है कि राहुल गांधी को आगे आना चाहिए और कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहिए क्योंकि हमारा देश- हमारे संविधान और लोकतंत्र को बचाने की सबसे बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है.
हालांकि वहीं लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर उनसे पार्टी प्रमुख बने रहने का अनुरोध किया है. उन्होंने लिखा है, "हम कांग्रेस पार्टी के आपके नेतृत्व में हमारे पूर्ण और अटूट विश्वास को दोहराना चाहते हैं."



सोनिया के इस्तीफे की खबर से बेचैन कांग्रेस नेता
तमिलनाडु कांग्रेस के अध्यक्ष अलागिरी ने ट्वीट कर कहा "मां सोनिया गांधी को ही पार्टी का नेतृत्व संभालना चाहिए." अलागिरी ने कहा कि "सोनिया गांधी दक्षिण, उत्तर, पश्चिम और पूर्व को एक करने वाली कड़ी हैं. देश के लाखों कांग्रेस कार्यकर्ता और आम जनता राहुल जी और सोनिया जी का अनुसरण करते हैं." राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने ट्वीट कर कहा सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व का मौजूदा हालात में कोई विकल्प नहीं हो सकता.

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने कहा है कि युवा कांग्रेस का एक कार्यकर्ता होने के नाते मैं हमारे नेता राहुल गांधी से आह्वान करता हूं कि वो कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर एक बार फिर से कमान संभालें. अब वक्त आ गया है, देश बचाने की इस लड़ाई में कांग्रेस पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ता आपके साथ हैं.

यह भी पढ़ें: क्या कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटेंगीं सोनिया गांधी? पार्टी नेताओं ने बताया- अफवाह

वहीं लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के चीफ व्हिप सुरेश ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिख कहा आपके हाथों में और उसके बाद राहुल गांधी के हाथों में पार्टी सुरक्षित है, कोई और पार्टी के साथ न्याय नहीं कर सकता.

वहीं दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने भी सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने की मांग की है.

कर्नाटक के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने भी सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर कांग्रेस का नेतृत्व करते रहने की अपील की है या फिर राहुल गांधी को नेता चुने जाने की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज