अपना शहर चुनें

States

Farmer Protest: राहुल गांधी बोले- अहंकार की कुर्सी छोड़िए और किसानों को उनका हक दीजिए

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Twitter)
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Twitter)

किसान आंदोलन (Farmer Protest) के बीच केंद्र सरकार भी एक्टिव हो गई है. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने किसानों को बातचीत के लिए बुलाया है. दोपहर 3 बजे विज्ञान भवन में सरकार और किसानों के बीच बातचीत होगी. इसकी आगुवाई रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2020, 11:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों (New Agriculture Law 2020) के खिलाफ किसान आंदोलनरत हैं. पिछले पांच दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर हजारों की संख्या में किसान जमे हुए हैं. इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और केरल के वायानाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने किसान आंदोलन को लेकर केंद्र सरकार पर तंज कसे हैं.

राहुल गांधी ने एक बार फिर ट्वीट कर किसानों का समर्थन किया है. राहुल ने लिखा- 'सैकड़ों अन्नदाता मैदानों में धरना दे रहे हैं और ‘झूठ’ टीवी पर भाषण! किसान की मेहनत का हम सब पर कर्ज है. ये कर्ज उन्हें न्याय और हक देकर ही उतरेगा, न कि उन्हें दुत्कार कर, लाठियां मारकर और आंसू गैस चलाकर. जागिए, अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए.'
Kisaan Andolan Live: सरकार की ओर से राजनाथ सिंह करेंगे बात, किसान समिति ने उठाए सवालकिसान आंदोलन के बीच केंद्र सरकार भी एक्टिव हो गई है. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने किसानों को बातचीत के लिए बुलाया है. दोपहर 3 बजे विज्ञान भवन में सरकार और किसानों के बीच बातचीत होगी. इसकी आगुवाई रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह करेंगे. उनके साथ कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत अन्य कुछ मंत्री रह सकते हैं. इनके अलावा कृषि मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी जो कानून पर विस्तार से बात करेंगे, वो भी मौजूद रहेंगे.इसके पहले भी राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरा. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों के खिलाफ सरकार के एक्शन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अहंकार बताया, तो कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार खरबपति मित्रों के लिए कालीन बिछाती है लेकिन अगर किसान दिल्ली आ रहा है तो उसके रास्ते खोद दिए जा रहे हैं.राहुल ने शनिवार को एक फोटो ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा था. राहुल ने ट्वीट किया, 'बड़ी ही दुखद फ़ोटो है. हमारा नारा तो ‘जय जवान जय किसान’ का था, लेकिन आज PM मोदी के अहंकार ने जवान को किसान के ख़िलाफ़ खड़ा कर दिया.'

किसानों के तेज हो रहे आंदोलन के बारे में हर सवाल का जवाब



बता दें कि किसानों ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि वह जबतक हमारी बात नहीं सुनते तब तक आंदोलन चलेगा. सरकार नहीं मानी तो और कड़ा कदम उठाएंगे. सरकार को हमारी बात माननी ही पड़ेगी.यह एतिहासिक लड़ाई है. हम लंबी लड़ाई के लिए आए हैं. कृषि क़ानून नहीं बदला तो सरकार का तख़्ता पलट देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज