• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • आंध्र प्रदेश: लॉकडाउन में नहीं मिला वाहन, अंतिम संस्कार के लिए कंधे पर बेटे की लाश लेकर 88KM पैदल चला पिता

आंध्र प्रदेश: लॉकडाउन में नहीं मिला वाहन, अंतिम संस्कार के लिए कंधे पर बेटे की लाश लेकर 88KM पैदल चला पिता

आंध्र प्रदेश में कोरोना के चलते कर्फ्यू लगा है.

आंध्र प्रदेश में कोरोना के चलते कर्फ्यू लगा है.

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले के गोरनतला गांव में कर्फ्यू (Curfew) के चलते 38 साल के एक पिता को अपने पांच साल के बेटे की लाश के कंधे पर उठाकर 88 किलोमीटर पैदल चलकर अंतिम संस्कार करना पड़ा.

  • Share this:
    हैदराबाद. भारत समेत दुनिया भर के देशों में इस समय कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर जारी है. इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है. लोगों से घर से बाहर नहीं निकलने और सामाजिक दूरी (Social Distanceing) का पालन करने की अपील की जा रही है. लॉकडाउन की वजह से ट्रेनें, बसें और पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद है. यहां तक कि लाश ढोने के लिए कोई एंबुलेंस या गाड़ी भी कोई गाड़ी नहीं मिल रही. ऐसे में लोग कई किलोमीटर पैदल चलकर अंतिम संस्कार करने को मजबूर हैं. आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले से ऐसा ही एक मामला सामने आया है.

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आंध्र प्रदेश  के अनंतपुर जिले के गोरनतला गांव में लॉकडाउन के चलते 38 साल के एक पिता को अपने पांच साल के बेटे की लाश के कंधे पर उठाकर 88 किलोमीटर पैदल चलकर अंतिम संस्कार करना पड़ा. ये घटना लॉकडाउन की घोषणा के एक दिन बाद की बताई जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 24 मार्च की रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित किया था और उसी रात 12 बजे से देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी.

    आंध्र प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कई मामले आने के बाद राज्य में कर्फ्यू लगा दिया गया है. इसलिए ये खबर करीब एक हफ्ते बाद सामने आई.

    क्या है पूरा मामला?
    मनचला मनोहर एक दिहाड़ी मजदूर है. कुछ दिन पहले उसके पांच साल के बेटे देवा को बुखार आया था और गले में इंफेक्शन भी था. मनोहर पहले तो बेटे को स्थानीय अस्पताल लेकर गए, लेकिन हालत बिगड़ने पर डॉक्टरों ने उसे हिंदुपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया.

    बीते बुधवार को बच्चे की तबीयत और बिगड़ गई. उसके नाक और मुंह से खून निकलने लगा. कुछ ही घंटे में बच्चे ने दम तोड़ दिया. कर्फ्यू की वजह से कोई गाड़ी नहीं चल रही थी. ऐसे में मनोहर बेटे के शव को कंधे पर उठाकर 88 किलोमीटर पैदल चलकर चित्रावती नदी पहुंचे, जहां अंतिम संस्कार किया गया.

    आंध्र प्रदेश में संक्रमण के कितने केस?
    देश के अन्य राज्यों की तरह आंध्र प्रदेश में भी कोरोना से संक्रमण मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. covid19india.org के मुताबिक, राज्य में कोरोना के कारण संक्रमित मरीजों की कुल संख्या अभी 23 है. इनमें से 22 एक्टिव केस हैं, जबकि 1 शख्स ठीक होकर घर भेजा जा चुका है. राज्य में अभी तक संक्रमण से किसी शख्स की मौत नहीं हुई है.

    तेलंगाना में कोरोना से 6 लोगों की मौत, दिल्‍ली के निजामुद्दीन में धार्मिक समारोह में लिया था हिस्‍सा

    कोरोना महामारी की मार, इस राज्‍य में 75% तक सैलरी काटेगी सरकार

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज