सैलरी विवाद के बीच एअर इंडिया के पायलट्स ने जताई केरल में फ्री सर्विस देने की इच्छा

सैलरी विवाद के बीच एअर इंडिया के पायलट्स ने जताई केरल में फ्री सर्विस देने की इच्छा
प्रतीकात्मक फोटो

असोसिएशन के महासचिव टी प्रवीण कीर्ति ने कहा, "पायलट होने के नाते हम हर संभव मदद के लिए तैयार हैं और ऐसा हमने पहले भी कई बार किया है."

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2018, 1:41 PM IST
  • Share this:
इंडियन कमर्शियल पायलट्स असोसिएशन (ICPA) ने रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर केरल में वॉलंटरी सेवाएं देने की इच्छा जाहिर की है. इस पत्र में ICPA ने लिखा, “हम बिना किसी पेमेंट के केरल में वॉलंटरी बेसिस पर प्लेन उड़ाने के इच्छुक हैं. ऐसे ऑपरेशन में योगदान देना हमारे लिए गर्व की बात होगी." (केरल बाढ़ से जुड़े लाइव अपडेट्स पढ़ने के लिए क्लिक करें)

इस पत्र में आगे लिखा है, "हमें पूरा विश्वास है कि एक बार सामान्य स्थिति बहाल हो जाने के बाद आप एअर इंडिया के कर्मचारियों की समस्याओं पर ध्यान देंगे."

एक दिन पहले ही एअर इंडिया के पायलट्स ने फ्लाइंग अलाउंस नहीं देने पर ऑपरेशन रोकने की धमकी दी थी. हालांकि रविवार को ICPA ने पत्र में लिखा, "एयरबस 320 और बोइंग 787 के पायलट ऑपरेशन मदद और ऑपरेशन सहयोग के लिए तैयार हैं. हम केरल में आम जनता की मदद में सरकार और पीएमओ की पूरी मदद करेंगे."



देश में आपदा कि स्थिति में एअर इंडिया हमेशा से राहत और बचाव कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता आया है. एअर इंडिया ने कुवैत, लीबिया, लेबनन और यमन से भारतीयों को रेस्क्यू कराने की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. असोसिएशन के महासचिव टी प्रवीण कीर्ति ने कहा, "पायलट होने के नाते हम हर संभव मदद के लिए तैयार हैं और ऐसा हमने पहले भी कई बार किया है."



एअर इंडिया की सहयोगी अलायंस एअर राहत कार्य के लिए 20 अगस्त से कोच्चि नेवल एयरबेस से परिचालन शुरू करेगी.

केरल में बाढ़ और बारिश से शनिवार को 33 लोगों की मौत हो गई, इस तरह शनिवार तक प्रदेश में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 357 हो गया है. प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से करीब 58 हजार लोगों को रेस्क्यू किया गया है. प्रदेश के सभी जिलों से रेड अलर्ट हटा दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading