• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • सिद्धू की बैठक के बाद पंजाब में कैप्टन की 'लंच पॉलिटिक्स', एक तीर से साधे दो निशाने

सिद्धू की बैठक के बाद पंजाब में कैप्टन की 'लंच पॉलिटिक्स', एक तीर से साधे दो निशाने

पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच पिछले काफी समय से विवाद चल रहा है.  (File Photo)

पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच पिछले काफी समय से विवाद चल रहा है. (File Photo)

Punjab Politics: कैप्टन के इस 'शक्ति प्रदर्शन' में 5 सांसद, 20 विधायक, 8 कैबिनेट मंत्री, 30 जिलाध्यक्ष समेत कई बड़े नेता मौजूद रहे.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब की राजनीति Punjab Politics) में मची हलचल थमने का नाम नहीं ले रही है. जहां एक तरफ दिल्ली में नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी (Navjot Singh Sidhu) आलाकमान के साथ मैराथन बैठकें कर कलह का हल निकालने के फॉर्मूले के इंतजार में हैं तो वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Punjab CM Captain Amarinder Singh) भी पार्टी नेताओं के साथ अपना धड़ा मजबूत करने की तैयारी कर रहे हैं. इसी क्रम में कैप्टन ने गुरुवार को अपने करीबी नेताओं के साथ दोपहर के खाने पर बैठक की. ऐसा कहा जा रहा है कि कैप्टन की ये लंच मीटिंग एक तीर से दो निशाने लगाने के लिए की गई है.

    पंजाब के करीबी नेताओं के साथ हुई इस बैठक से ऐसा साफ जाहिर हो रहा है कि कैप्टन शक्ति प्रदर्शन कर अपना जोर दिखाने की कोशिश में लगे हैं तो वहीं पार्टी आलाकमान को यह संदेश भी मिलता दिख रहा है कि सिद्धू को लेकर जो भी फॉर्मूला तैयार किया गया है उसे पंजाब कांग्रेस के नेता मानेंगे.

    ये नेता रहे बैठक में मौजूद
    कैप्टन के इस 'शक्ति प्रदर्शन' में 5 सांसद, 20 विधायक, 8 कैबिनेट मंत्री, 30 जिलाध्यक्ष समेत कई बड़े नेता मौजूद रहे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बैठक में पार्टी की अंतर्कलह सुलझाने के लिए बनाए जाने वाले फार्मूले को लेकर भी अपने करीबी नेताओं से चर्चा की.

    बैठक में यह तय किया गया कि अगर कैप्टन अमरिंदर सिंह के चेहरे पर राज्य विधानसभा का चुनाव लड़ा जाता है तो सिद्धू को आलाकमान की ओर से जो जिम्मेदारी दी जाएगी पंजाब के नेता उसका स्वागत करेंगे.

    गौरतलब है कि कांग्रेस की पंजाब इकाई में मची कलह को शांत करने के लिए जारी प्रयासों के बीच पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार को पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा के साथ लंबी मुलाकात की.

    माना जा रहा है कि इन बैठकों में कांग्रेस आलाकमान की ओर से सिद्धू को पार्टी या संगठन में सम्मानजनक स्थान की पेशकश के साथ मनाने का प्रयास किया गया है. सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ सिद्धू के सख्त रुख को देखते हुए कांग्रेस आलाकमान दोनों नेताओं के लिहाज से संतोषजनक समाधान निकालने का प्रयास कर रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज