लाइव टीवी

जातिवाद, वंशवाद और तुष्टिवाद पर विकासवाद की जीतः अमित शाह

News18Hindi
Updated: December 18, 2017, 4:38 PM IST
जातिवाद, वंशवाद और तुष्टिवाद पर विकासवाद की जीतः अमित शाह
मीडिया से बात करते अमित शाह.

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में भाजपा की शानदार जीत पर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि यह वंशवाद, जातिवाद और तुष्टीवाद पर विकासवाद की जीत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2017, 4:38 PM IST
  • Share this:
गुजरात और हिमाचल प्रदेश में बीजेपी की शानदार जीत पर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि ये वंशवाद, जातिवाद और तुष्टिवाद पर विकासवाद की जीत है.

पार्टी मुख्यालय में उन्होंने कहा कि मोदी जब से पीएम बने हैं तब इन नासुरों- जातिवाद, वंशवाद और तुष्टिवाद से राजनीति को मुक्त करने की कोशिश कर रहे हैं. उसी क्रम में उत्तर प्रदेश के बाद गुजरात में लोगों ने लोकतंत्र के इन नासुरों को हटाने को कोशिश की है.

शाह ने कहा कि इसके लिए बीजेपी के करोड़ों कार्यकर्ताओं को बधाई. गुजरात में 1990 के बाद से बीजेपी कभी भी लोकसभा और विधानसभा के चुनाव नहीं हारी है. उन्होंने कहा कि 2112 में हमें 47 फीसदी से अधिक वोट मिले थे, लेकिन इस चुनाव में 49 फीसदी से अधिक वोट मिले हैं. इससे पता चलता है कि राज्य में बीजेपी की लोकप्रियता बढ़ी है.

उन्होंने कहा कि गुजरात में कांग्रेस ने जातिवाद की ओर धकेलने की कोशिश की. उसे जनता ने नकार दिया है. कांग्रेस के प्रदेश के सभी बड़े नेता चुनाव हार गए हैं. जनता ने मोदी जी पर भरोसा किया है. पूरे प्रचार के दौरान प्रचार का स्तर नीचे ले जाने का प्रयास किया गया. गलत शब्दों का इस्तेमाल किया. मोदी जी ने पॉलिटिस्क ऑफ परफॉरमेंस की शुरुआत की है और गुजरात की जनता ने हमें मौका दिया.

जहां तक हिमाचल की बात है तो हम बड़े अंतर से जीते हैं. पिछले चुनाव की तुलना में इस बार हमें करीब 10 फीसदी अधिक वोट मिले हैं. राज्य में दो तिहाई से अधिक बहुतम से सरकार बनेगी. केंद्र में सरकार बनने के बाद देश की स्थिति बेहतर किया है. 2014 के पहले पांच राज्यों में हमारी सरकार थी आज 14 राज्यों में हमारे मुख्यमंत्री है जबकि पांच में हम सहयोगी के साथ सरकार में हैं.

उन्होंने कहा कि 106 योजनाएं लेकर आई है. देश की आर्थिक स्थिति बेहतर हुई है. आने वाले दिनों में और चार त्रिपुरा, मेघालय, मिजोरम और कर्नाटक में भी बीजेपी अपनी सरकार बनाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Gandhinagar से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 18, 2017, 4:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर