Exclusive: राजनीतिक हिंसा, पाक घुसपैठ से बंगाल चुनाव तक, पढ़ें गृह मंत्री अमित शाह का पूरा इंटरव्‍यू

अमित शाह ने कहा कि बंगाल में पूर्ण बहुमत से बीजेपी की सरकार बनेगी. (फाइल फोटो)
अमित शाह ने कहा कि बंगाल में पूर्ण बहुमत से बीजेपी की सरकार बनेगी. (फाइल फोटो)

Home Minister Amit Shah Exclusive Interview: अमित शाह ने कहा, 'देश भर के किसानों के बैंक अकाउंट में अब तक 2 साल में 95 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर हो चुके हैं. हर साल 6 हजार के हिसाब से. लेकिन बंगाल के किसानों को पैसा नहीं मिल रहा है. यहां के किसानों का दोष क्‍या है? अगर देश भर के गरीब परिवारों में किसी को बड़ी बीमारी हो गई तो 5 लाख तक का पूरा खर्च भारत सरकार उठाती है. बंगाल के गरीब को यह फायदा नहीं मिला. क्‍योंकि यहां के मुख्‍यमंत्री के मन में डर है कि इससे मोदी जी पॉपुलर हो जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2020, 7:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश के गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) दो दिवसीय पश्चिम बंगाल (West Bengal) दौरे पर हैं. उनका यह दौरा अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों की शुरुआत माना जा रहा है. इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने न्‍यूज 18 से खास बातचीत में राज्‍य के राजनीतिक हालात पर खुलकर बातचीत की. उन्‍होंने कहा, 'मैं बंगाल में 5 साल से नियमित रूप से आता रहा हूं. देश भर में गरीबों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) जी ने जो योजनाएं शुरू की हैं चाहे सबको घर, बिजली, बैंक अकाउंट, स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं, सस्‍ता अनाज और गैस देना हो. डायरेक्‍ट लोगों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर होने वाली योजनाएं तो अच्‍छी चलीं. लेकिन जहां पर राज्‍य सरकार का रोल आता था वहां पर बंगाल में बहुत ज्‍यादा खामी देखी गई.'

अमित शाह ने कहा, 'देश भर के किसानों के बैंक अकाउंट में अब तक 2 साल में 95 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर हो चुके हैं. हर साल 6 हजार के हिसाब से. लेकिन बंगाल के किसानों को पैसा नहीं मिल रहा है. यहां के किसानों का दोष क्‍या है? अगर देश भर के गरीब परिवारों में किसी को बड़ी बीमारी हो गई तो 5 लाख तक का पूरा खर्च भारत सरकार उठाती है. बंगाल के गरीब को यह फायदा नहीं मिला. क्‍योंकि यहां के मुख्‍यमंत्री के मन में डर है कि इससे मोदी जी पॉपुलर हो जाएंगे. यह क्षेत्र, वह क्षेत्र है जहां पर विकास पहुंचना जरूरी है.' उन्‍होंने कहा, 'मैं संगठनात्‍मक रिव्‍यू और विस्‍तार के लिए यहां आया था. लेकिन रोड पर आते जाते जिस प्रकार से लोगों की भीड़ और प्‍यार दिखा है, उससे दो चीजें स्‍पष्‍ट हो जाती हैं. लोगों के मन में ममता जी के प्रति बहुत गुस्‍सा है. लोग यही आस लगाकर बैठे हैं कब चुनाव आए, कब मौके मिले और उनका तार सीधे मोदी जी से जुड़ जाए.'

एक आदिवासी परिवार के घर भोजन करते समय आज एक बुजुर्ग महिमा ने अमित शाह का मुंह साफ किया था. इससे संबंधित सवाल पर उन्‍होंने कहा कि व्‍यक्तिगत रूप से ये मेरे लिए बड़ा महत्‍वपूर्ण पल था. एक बुजुर्ग महिला और एक बच्‍ची ने मेरा मुंह साफ किया और प्‍यार से आशीर्वाद दिया. मेरे लिए बड़ी बात है. इसके राजनीति मायने हैं कि बंगाल की जनता में बीजेपी के प्रति कितनी श्रद्धा बन चुकी है, इसका ये परिचायक है. मैं मानता हूं कि इसे चुनाव की राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए. हालांकि ये जनता के मूड को दिखाता है.



70 साल से मटुआ समाज के साथ अन्‍याय हुआ: अमित शाह
अमित शाह शुक्रवार को मटुआ समाज के लोगों के साथ भोजन करेंगे. इससे संबंधित सवाल पर उन्‍होंने कहा कि ममता बनर्जी अगर इस समाज की इतनी बड़ी शुभचिंतक हैं तो उन्‍होंने इनके लिए किया क्‍या है. अच्‍छा है, अभी भी वह इन की चिंता करें. बाद में इस सरकार को जाना ही है. 5-6 महीने में इनके लिए सरकार जितना करे उतना अच्‍छा है. इस समाज के साथ 70 साल से अन्‍याय हुआ है. बीजेपी इनके साथ न्‍याय करेगी और इन्‍हें सम्‍मान दिलाएगी. सीएए पर शाह ने कहा कि इस समाज की समस्‍या ये नहीं है. उनकी समस्‍या नागरिकता है. हमने 2017 से ही उन्‍हें परमानेंट यहां लंबे समय तक रहने के लिए व्‍यवस्‍था दी है.

राजनीतिक हिंसा पर गृह मंत्री ने कही ये बात
राजनीति हिंसा पर अमित शाह ने कहा, 'राष्‍ट्रपति शासन लगाना है या नहीं, ये राज्‍यपाल की रिपोर्ट संविधान की धाराएं, संविधान का स्‍प्रीट इन सबको मिलाकर तय होता है. बंगाल बीजेपी की जो मांग है, जिस स्थिति का बीजेपी वर्णन कर रही है. वह सही है. यहां पर 100 से ज्‍यादा पार्टी के कार्यकर्ता मारे गए हैं. ना जांच होती है और ना ही कोई अरेस्‍ट होता है. एक के बाद एक कार्यकर्ता मारे गए हैं.' उन्‍होंने कहा कि मैं कल एयरपोर्ट पर एक परिवार से मिला, उनके बच्‍चे के शव का पोस्‍टमार्टम कराने के लिए उन्‍हें हाईकोर्ट में जाना पड़ता है. हत्‍या के मामले में पुलिस पोस्‍टमार्टम नहीं करती है. कोर्ट के आदेश पर भी पोस्‍टमार्टम नहीं किया जाता है. कंटेंट ऑफ कोर्ट होता है.

ये भी पढ़ें: हम ममता सरकार के खिलाफ लोगों के गुस्से को महसूस कर सकते हैं: अमित शाह

ये भी पढ़ें: राजनाथ सिंह का पाकिस्तान पर हमला, कहा- PoK हमारा था, है और रहेगा

अमित शाह ने कहा क‍ि बीजेपी ऐसे लोगों से डरती नहीं है. हमारी पार्टी का इतिहास बलिदान से भरा है. संघर्षों से भरा पड़ा है. यहां पर जितने अत्‍याचार बढ़ेंगे हम संघर्ष और बढ़ाएंगे. बंगाल में परिवर्तन सुनिश्चित है. यहां पर दो तिहाई बहुमत के साथ मोदी जी के नेतृत्‍व में बीजेपी की सरकार बनने जा रही है.

बिहार की जनता तय करेगी मुख्‍यमंत्री: शाह
बंगाल में बीजेपी की तरफ से मुख्‍यमंत्री संबंधित सवाल पर अमित शाह ने कहा कि वो जनता तय कर लेगी. समय आने पर आपको भी मालूम पड़ जाएगा और देश को भी मालूम पड़ जाएगा. अभी बीजेपी का चेहरा तय नहीं हुआ है. ये राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जी के नेतृत्‍व में हमारी इलेक्‍शन कमेटी ही तय करती है. उचित समय पर इसका फैसला राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जी लेंगे. गृह मंत्री ने ममता सरकार के एक बड़े मंत्री के बीजेपी में शामिल होने संबंधी सवाल पर कहा, 'मुझसे इस मामले पर कोई बात नहीं हुई. ये तो स्‍टेट यूनिट का अफेयर्स है. काफी सारे लोग आए हैं उनका स्‍वागत है. हम तो चुनाव के बाद भी स्‍वागत करेंगे.'

घुसपैठ और अलकायदा पर अमित शाह ने कही ये बात
अमित शाह ने आतंकी संगठन अलकायदा से जुड़े लोगों के लगातार पकड़े जाने पर कहा, 'यह चिंताजनक स्थिति है. जिस प्रकार से घुसपैठ चल रही है और जिस प्रकार से पुलिस को सरकार का संरक्षण मिल रहा है. इसके लिए देश की सुरक्षा भी खतरे में है और कानून व्‍यवस्‍था भी चरमराई हुई है.' पाकिस्‍तानी आतंकियों की बंग्‍लादेश की ओर से मुर्शिदाबाद के माध्‍यम से होने वाले घुसपैठ पर अमित शाह ने कहा कि केंद्र की एजेंसिया पूरी तरह से सतर्क हैं. हम पैनी नजर रखे हुए हैं, लेकिन राज्‍य प्रशासन का साथ नहीं मिल रहा है.

बिहार में NDA को मिलेगा पूर्ण बहुमत
बीजेपी कार्यकर्ताओं पर सरकार की ओर से होने वाली कार्रवाई पर अमित शाह ने कहा कि हम तो जरूर चाहेंगे कि फ्री एंड फेयर इलेक्‍शन हो. ये चुनाव आयोग की जिम्‍मेदारी भी है. बिहार में प्रचार ना कर पाने संबंधी सवाल पर शाह ने कहा क‍ि मैंने बिहार के लोगों को काफी मिस किया. पहले कोरोना फिर कोरोना का प्रभाव था, इससे वहां प्रचार नहीं कर सका. अब मैंने बंगाल से शुरुआत की है. मैं मानता हूं कि बिहार के कार्यकर्ता नड्डा जी और मोदी जी के नेतृत्‍व में बहुत अच्‍छा चुनाव लड़े हैं. हम बिहार में पूर्ण बहुमत की एनडीए की सरकार बनाएंगे. नीतीश जी के खिलाफ एंटी इनकंबेंसी संबंधित सवाल पर उन्‍होंने कहा कि एंटी इनकंबेंसी का कोई कोई सवाल ही नहीं है. जनता बीजेपी और जदयू के लिए वोट कर रही है. हम प्रचंड बहुमत के साथ जीतेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज