लाइव टीवी

EXCLUSIVE INTERVIEW: एक भाषा विवाद पर बोले अमित शाह-मैंने सिर्फ कहा था कि हिंदी को मजबूत किया जाए

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 5:42 PM IST
EXCLUSIVE INTERVIEW: एक भाषा विवाद पर बोले अमित शाह-मैंने सिर्फ कहा था कि हिंदी को मजबूत किया जाए
अमित शाह (Amit Shah) ने कहा मैंने सिर्फ अंग्रेजी की जगह हिंदी को बढ़ावा देने की बात कही.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) के हिंदी भाषा के समर्थन में दिए बयान पर विवाद खड़ा हो गया था. न्यूज़18 नेटवर्क (News18 Network) से बातचीत में अमित शाह ने कहा, मैंने सभी भाषाओं को मजबूत करने की बात कही थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 5:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने एक राष्ट्र एक भाषा वाले बयान पर हुए विवाद पर कहा है कि उनके कहने का उद्देश्य ये नहीं था. उन्होंने कहा, मैंने सिर्फ ये कहा था कि हिंदी को देश में मजबूत किया जाए. न्यूज़18 नेटवर्क (News18 Network) ग्रुप के एडिटर इन चीफ राहुल जोशी से खास बातचीत में देश से जुड़े कई अहम मुद्दों पर बातचीत की.

बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी दिवस के मौके पर दिए अपने भाषण में कहा था, 'अनेक भाषाएं अनेक बोलियां देश के लिए बोझ हैं. लेकिन मुझे लगता है कि अनेक भाषाएं हमारे देश की सबसे बड़ी ताकत हैं. परंतु जरूरत है कि देश की एक भाषा हो, जिससे विदेशी भाषा को जगह न मिले. इसी को ध्यान में रखते हुए हमारे पुरखों ने हिंदी को राजभाषा के रूप में स्वीकार किया था. मैं मानता हूं कि हिंदी को प्रचारित करना हमारा दायित्व है.'

AMIT SHAH

हिंंदी की किसी  के साथ स्पर्धा नहीं

केंद्रीय गृह मंत्री के इस बयान के बाद विवाद खड़ा हो गया था. न्यूज़18 नेटवर्क (News18 Network) से बातचीत में अमित शाह ने इस पर अपनी सफाई दी. जब उनसे इस विवाद के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, आपसे रिक्वेस्ट है कि मेरा भाषण पूरा सुन लीजिए. मैंने सबसे पहले कहा था हमारी सभी भारतीय भाषाओं को मजबूत करना चाहिए. परंतु कई बार सभी राज्यों में कोआर्डिनेशन में अंग्रेजी का उपयोग होता है. इसकी जगह अगर हिंदी का उपयोग होता है तो हमारी भाषा मजबूत होगी. इसको ताकत देनी चाहिए. मैंने बार-बार भारतीय भाषाओं को मजबूत करने की बात कही है. हिंदी की किसी भी भारतीय भाषा से स्पर्धा नहीं है. मैं भी नॉन हिंदी प्रदेश से आता हूं. राजभाषा ही मेरे मंत्रालय का एक अंग है.

अमित शाह से जब पूछा गया कि प्रधानमंत्री के द्वारा तमिल भाषा की सराहना, चेन्नई में वेष्टि पहनना क्या दक्षिण के किले को मजबूत करने का प्रयास है तो उन्होंने कहा, सभी संस्कृतियों को प्रधानमंत्री जी रिप्रजेंट करते हैं. इसको अलग तरीके से नहीं देखना चाहिए.

यह भी पढ़ें...
Loading...

EXCLUSIVE: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा-दोनों पक्ष स्‍वीकार करेंगे राममंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला

'मॉब लिंचिंग गरीब के साथ होती है, किसी खास जाति के खिलाफ नहीं'

अमित शाह का शिवसेना को इशारों में संदेश, महाराष्ट्र में बीजेपी को मिलेगा बहुमत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 12:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...