कश्मीर के बाद अब अमित शाह का फोकस अवैध बांग्लादेशी घुसपैठ पर

अपनी पहली अंतरराष्ट्रीय बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने बांग्लादेशी समकक्ष असद-उज-जमां खान के सामने देश की सुरक्षा से जुड़ा एक और बड़ा मुद्दा उठाया है.

भाषा
Updated: August 8, 2019, 5:45 AM IST
कश्मीर के बाद अब अमित शाह का फोकस अवैध बांग्लादेशी घुसपैठ पर
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने बांग्लादेशी समकक्ष असद-उज-जमां खान से मुलाकात की (अमित शाह की फेसबुक वॉल से साभार)
भाषा
Updated: August 8, 2019, 5:45 AM IST
अपनी पहली अंतरराष्ट्रीय मीटिंग के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बांग्लादेश के उनके समकक्ष असद-उज-जमां खान से विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर विस्तार से बातचीत की. दो महीने पहले देश के गृह मंत्री का पदभार संभालने के बाद शाह की किसी विदेशी नेता के साथ यह पहली भेंटवार्ता थी.

इस बातचीत के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने फेसबुक पर लिखा कि उन्होंने भारत और बांग्लादेश के द्विपक्षीय संबंधों पर व्यापक चर्चा की. बता दें कि भारत और बांग्लादेश 4,096 किलोमीटर लंबी सीमा रेखा को साझा करते हैं.

NRC की अंतिम सूची आने से पहले अमित शाह ने अवैध घुसपैठ की चिंताओं के बारे में बताया
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को बांग्लादेश को वहां से पूर्वोत्तर में हो रही अवैध घुसपैठ पर भारत की चिंताओं के बारे में बताया. भारत-बांग्लादेश के गृह मंत्री स्तर की बातचीत की यह 7वीं बैठक थी. जिसमें बांग्लादेश के गृह मंत्री असद-उज-जमां खान के सामने इस मुद्दे को रखा गया.

गृह मंत्रालय के आधिकारिक बयान में कहा गया है कि शाह ने विशेष रूप से पूर्वोत्तर भारत में इस समस्या का समाधान खोजने के मद्देनजर सीमा पार से लोगों की अवैध घुसपैठ के बारे में भारत की चिंता को साझा किया. यह बैठक 31 अगस्त को असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) की अंतिम सूची के प्रकाशन से पहले हुई है.

सीमा पर होने वाले अपराधों पर लगाई जाएगी लगाम
गृह मंत्रालय के आधिकारिक बयान में कहा गया है कि दोनों गृह मंत्रियों ने सीमा पार अपराधों के खतरे को रोकने की आवश्यकता पर जोर दिया और इसलिए ‘‘एक सुरक्षित सीमा का हमारा उद्देश्य’’ हासिल करने के लिए अधिक से अधिक सहयोग की आवश्यकता पर सहमति व्यक्त की.
Loading...

दोनों पक्षों ने सीमाओं पर सुरक्षा और बुनियादी ढांचे से संबंधित लंबित मुद्दों की भी समीक्षा की और मामलों को तेजी से हल करने के लिए कदम उठाने पर सहमति व्यक्त की.

बातचीत के बाद शाह ने एक ट्वीट में कहा ‘‘उन्होंने भारत और बांग्लादेश के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर व्यापक चर्चा की.’’ बैठक के दौरान, मंत्रियों ने संतोष व्यक्त किया कि दोनों देश सुरक्षा और सीमा प्रबंधन सहित हर क्षेत्र में पहले से कहीं अधिक करीब से काम कर रहे हैं.

यह भी पढे़ं: Article-370: डोभाल ने सीक्रेट दौरे में की थी पुख्‍ता तैयारी
First published: August 8, 2019, 5:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...