लाइव टीवी

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- अनुच्छेद 370 खत्म करना लद्दाख के लिए सही कदम

भाषा
Updated: November 17, 2019, 10:29 PM IST
गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- अनुच्छेद 370 खत्म करना लद्दाख के लिए सही कदम
अमित शाह ने विशिष्ट विंटर ग्रेड डीजल की शुरुआत की (फाइल फोटो)

अमित शाह ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्यक्षता में राजग सरकार लेह-लद्दाख क्षेत्र (Leh-Ladakh Area) को देश के अन्य हिस्से के बराबर लाने के लिए प्रतिबद्ध है जो पिछले 70 वर्षों से उपेक्षित है.’’

  • भाषा
  • Last Updated: November 17, 2019, 10:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार को कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार (PM Narendra Modi) नवगठित केंद्र शासित क्षेत्र लद्दाख (Ladakh) में सर्वांगीण विकास करने के लिए प्रतिबद्ध है और अनुच्छेद 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करना इस दिशा में सही कदम है.

गृह मंत्री (Home Ministry) ने कहा कि लद्दाख के लिए 50 हजार करोड़ रुपये की लागत से बनाई जाने वाली नई जल विद्युत और सौर ऊर्जा परियोजना से 7500 मेगावाट बिजली (Electricity) पैदा होगी और यह अगले चार वर्षों में पूरा होगा.

गृहमंत्री ने की विशिष्ट विंटर ग्रेड डीजल की शुरुआत
गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से ऊंचाई वाले क्षेत्रों के लिए विशिष्ट विंटर ग्रेड डीजल की शुरुआत की जहां ठंड के मौसम में तापमान शून्य से नीचे चला जाता है.

उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) की अध्यक्षता में राजग सरकार लेह-लद्दाख क्षेत्र को देश के अन्य हिस्से के बराबर लाने के लिए प्रतिबद्ध है जो पिछले 70 वर्षों से उपेक्षित है.'

गृह मंत्री ने कहा कि जब अनुच्छेद 370 को समाप्त करने की घोषणा की गई तो प्रधानमंत्री ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का तेजी से विकास करने के लिए यह सही कदम है. अनुच्छेद 370 के तहत पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) राज्य को विशेष दर्जा हासिल था.

शाह ने बताए लद्दाख के वित्तीय संसाधन बढ़ाने के तरीकेगृह मंत्री ने पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 (Article 370) को खत्म करने और पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित क्षेत्रों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित करने की घोषणा की थी जो 31 अक्टूबर को अस्तित्व में आए.

शाह ने कहा कि लद्दाख (Ladakh) की स्थिति में बदलाव लाना और बजट आवंटन में बढ़ोतरी करना, क्षेत्र का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया गया है. उन्होंने कहा कि स्थानीय कर के प्रावधान की शुरुआत करने से लद्दाख का वित्तीय संसाधन बढ़ेगा.

पिछले पांच वर्षों में मोदी सरकार (Modi Government) के विकास कार्यों का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि लद्दाख, लेह और कारगिल के लोगों को बराबर अधिकार होंगे और देश के विकास में वे बराबर के भागीदार होंगे.

धर्मेंद्र प्रधान और जेमयांग सेरिंग नामग्याल भी रहे मौजूद
अमित शाह ने (Amit Shah) कहा कि जल और सौर विद्युत परियोजनाएं अगले चार वर्षों में पूरी होंगी जिनसे न केवल लद्दाख क्षेत्र में विकास होगा बल्कि रोजगार के अवसर पर पैदा होंगे. उन्होंने द्वारा शुरुआत किए गए विंटर ग्रेड डीजल का उत्पादन इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की पानीपत रिफाइनरी पहली बार कर रही है.

यह डीजल (Diesel) शून्य से नीचे तापमान में भी नहीं जमता, जबकि इतने तापमान पर सामान्य डीजल का इस्तेमाल करना कठिन हो जाता है. इस अवसर पर केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान (Dharmendra Pradhan), लद्दाख के सांसद जेमयांग सेरिंग नामग्याल तथा गृह मंत्रालय और पेट्रोलियम मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.

यह भी पढ़ें: फारूक अब्दुल्ला को छोड़ने की उठी मांग, सभी मुद्दों पर चर्चा को तैयार है सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 7:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर