राज्यसभा में बोले अमित शाह- देश की इंच-इंच जमीन से बाहर निकाले जाएंगे घुसपैठिए

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को राज्यसभा में कहा कि देश की इंच-इंच जमीन पर रह रहे घुसपैठियों की पहचान कर अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत देश से बाहर किया जाएगा.

News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 3:56 PM IST
राज्यसभा में बोले अमित शाह- देश की इंच-इंच जमीन से बाहर निकाले जाएंगे घुसपैठिए
एनआरसी के मुद्दे पर राज्यसभा में बोले अमित शाह
News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 3:56 PM IST
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को राज्यसभा में कहा कि देश की इंच-इंच जमीन पर जितने घुसपैठिए रह रहे हैं, हम उनकी पहचान कर अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत देश से बाहर निकालेंगे. राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) के मुद्दे पर सदन में पूछे गए एक सवाल के जवाब में अमित शाह ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि NRC असम समझौते का हिस्सा है.

दरअसल, राज्यसभा में सपा सांसद जावेद अली खान ने सरकार से पूछा कि क्या एनआरसी जैसा कोई और रजिस्टर लागू हो रहा है? अगर हो रहा है तो कौन से राज्य इसके दायरे में आएंगे. इसके जवाब में गृह मंत्री ने कहा कि NRC असम समझौते का हिस्सा है और बीजेपी के मेनिफेस्टो में भी इसका जिक्र है. उन्होंने कहा कि देश की इंच-इंच जमीन पर रह रहे घुसपैठियों की पहचान कर अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत देश से बाहर किया जाएगा.



'NRC लागू करने की हमारी मंशा साफ'
Loading...

इससे पहले गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि सरकार असम में NRC लागू करने को लेकर प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि सरकार यह भी तय करेगी कि एनआरसी की प्रक्रिया में भारत का कोई नागरिक न छूटे और किसी अवैध प्रवासी को इसमें जगह नहीं मिल सके. राय ने कहा कि NRC लागू करने को लेकर हमारी मंशा बिल्कुल साफ है.

‘सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से मांगा थोड़ा समय’
उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति और सरकार को पास 25 लाख से अधिक ऐसे आवेदन मिले हैं, जिनमें कहा गया कि कुछ भारतीय को यहां का नागिरक नहीं माना गया है. जबकि हकीकत यह है कि एनआरसी में ऐसे नागरिकों को भारतीय मान लिया गया है. राय ने कहा कि सरकार ने इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट से आग्रह किया है कि इन आवेदनों पर विचार करने के लिए सरकार को थोड़ा वक्त दिया जाए. राय ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार, असम में NRC को 31 जुलाई 2019 तक प्रकाशित किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़ें- ED की याचिका पर जवाब देने के लिए रॉबर्ट वाड्रा को मिला 2 हफ्ते का समय

SC के फैसले से कुमारस्वामी को राहत या BJP की हुई चांदी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 17, 2019, 3:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...