Home /News /nation /

समाजवादी पार्टी सपना देख रही है कि राम जन्मभूमि कार्य को रोक देंगे, अखिलेश यादव पर बरसे अमित शाह

समाजवादी पार्टी सपना देख रही है कि राम जन्मभूमि कार्य को रोक देंगे, अखिलेश यादव पर बरसे अमित शाह

जालौन के उरई में एक जनसभा को संबोधित करते केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह.

जालौन के उरई में एक जनसभा को संबोधित करते केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह.

Amit Shah UP Elections 2022: केंद्रीय गृह मंत्री तथा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व अध्‍यक्ष अमित शाह ने रविवार को विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर तीखा हमला करते हुए कहा कि सपा और बसपा जातिवादी और परिवारवादी पार्टियां हैं तथा ये लोगों का भला नहीं कर सकती हैं. शाह ने कहा, ‘‘प्रदेश के सभी छह क्षेत्रों में जन विश्वास यात्रा घूम रही है और राज्य की सभी 403 विधानसभा सीटों पर यह यात्रा जाने वाली है. जहां पर भी यह यात्रा गुजरती है, ऐसी ही भीड़ होती है.’’

अधिक पढ़ें ...

    लखनऊ. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर अखिलेश यादव पर निशाना साधा और कहा कि इसे बनने से कोई नहीं रोक सकता. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले के बारह पत्थर मैदान और बुंदेलखंड के जीआईसी ग्राउंड, उरई ( जालौन) में जनविश्वास यात्रा की जनसभाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “समाजवादी पार्टी सपना देख रही है कि वह उत्तर प्रदेश में फिर से सत्ता में आएगी और वे राम जन्मभूमि पर चल रहे कार्यों को रोक देंगे. अखिलेश जी, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को कोई नहीं रोक सकता.”

    उन्होंने कहा, “पहले राम मंदिर निर्माण की मांग करने वालों पर डंडे बरसाए जाते थे, गोलियां चलवाई जाती थीं, लेकिन आपने पूर्ण बहुमत दे दिया तो मोदी ने राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण का शिलान्यास कर दिया. देखते ही देखते कुछ ही महीनों में आकाश को छूने वाला प्रभु श्रीराम का मंदिर अयोध्या में बनने वाला है.” शाह ने जनता से सवाल किया “आप बताइए राम मंदिर निर्माण का विरोध करने वालों का आप साथ देंगे, निर्दोषों पर गोली चलाने वालों का साथ देंगे.”

    सपा और बसपा पर जातिवाद और परिवारवाद को लेकर बरसे शाह
    इसके साथ ही अमित शाह ने विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर तीखा हमला करते हुए कहा कि सपा और बसपा जातिवादी और परिवारवादी पार्टियां हैं तथा ये लोगों का भला नहीं कर सकती हैं. शाह ने कहा, “प्रदेश के सभी छह क्षेत्रों में जन विश्वास यात्रा घूम रही है और राज्य की सभी 403 विधानसभा सीटों पर यह यात्रा जाने वाली है. जहां पर भी यह यात्रा गुजरती है, ऐसी ही भीड़ होती है.”

    अमित शाह ने मायावती और अखिलेश यादव को घेरा
    उन्होंने प्रश्न किया, “उत्तर प्रदेश में ये बुआ (मायावती) और बबुआ (अखिलेश यादव) ने जो सरकारें चलाई, वें सभी का विकास करती थीं क्‍या, सपा के राज में आपका भला होता था क्‍या, बसपा के राज में आपका भला होता था क्‍या.” उन्होंने स्वयं इसका जवाब देते हुए कहा, “वो यह नहीं कर सकते. ये जातिवादी पार्टियां हैं, ये परिवारवादी पार्टियां हैं, सर्व समाज को साथ लेकर केवल और केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ही आगे बढ़ सकती है.”

    ‘अपनी-अपनी जाति के काम करते हैं मायावती और अखिलेश’
    शाह ने कहा, ”बहन जी (मायावती) आती हैं तो वह एक जाति का काम करती हैं और अखिलेश आते हैं तो वह दूसरी जाति का काम करते हैं लेकिन मोदी जी आते हैं, योगी जी आते हैं तो सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्‍वास होता है.” उन्‍होंने कहा कि भाजपा ने उत्‍तर प्रदेश और बुंदेलखंड के विकास के लिए ढेर सारी योजनाओं को लागू किया है.

    तीन तलाक खत्म होने और राम मंदिर बनने से अखिलेश गुस्से में’
    भाजपा नेता ने कहा, “अभी अखिलेश बाबू बहुत गुस्‍सा हैं, इसके दो कारण हैं, एक तो मोदी जी ने तीन तलाक समाप्‍त कर दिया, दूसरा राममंदिर बन रहा है.” उन्होंने कहा, “अखिलेश बाबू विरोध कर रहे हैं, अखिलेश बाबू तीन तलाक से आपका क्‍या लेना-देना है. हमारे नेता नरेंद्र मोदी जी ने तो मुस्लिम महिलाओं को न्‍याय देने का कार्य किया है.”

    ‘अखिलेश बाबू, रामलला के मंदिर के काम को कोई नहीं रोक सकता’
    पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने कहा, “कारसेवकों पर गोली किसने चलवाई थी, कल्‍याण सिंह की सरकार किसने गिराई थी? उनको (सपा प्रमुख) कैसे पसंद आएगा कि मंदिर बने, वह तो शेखचिल्‍ली के सपने देख रहे हैं कि हमें यूपी की जनता चुन देगी और हम राम जन्‍मभूमि का निर्माण बंद करा देंगे. अखिलेश बाबू, जितना जोर लगाना है, लगा लीजिए, रामलला के मंदिर के काम को कोई नहीं रोक सकता.”

    कल्याण सिंह को अमित शाह ने किया याद
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा को तीन सौ से अधिक सीटें दिलाने का नारा देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री ने कासगंज में उत्‍तर प्रदेश के दिवंगत मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को याद किया. सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए शाह ने कहा, “पार्टी ने यहां मेरे ढेर सारे फोटो बाबूजी (कल्‍याण सिंह) के साथ लगाए हैं, बाबूजी अगर मेरा मार्गदर्शन नहीं करते तो 2014 (लोकसभा), 2017 (विधानसभा) और 2019 (लोकसभा) की विजय संभव ही नहीं थी.”

    ‘कल्‍याण सिंह ने ही पहली बार उप्र के अंदर सुशासन की बात की’
    भाजपा ने 2017 के चुनाव में सहयोगियों के साथ मिलकर विधानसभा की 403 सीटों में से 325 सीटों पर जीती थीं, जबकि लोकसभा में भी दोनों बार भाजपा ने भारी जीत हासिल की. भाजपा के पूर्व अध्‍यक्ष शाह ने जोर देकर कहा, “यह कल्‍याण सिंह ही थे जिन्होंने पहली बार उप्र के अंदर सुशासन की बात की.” उन्होंने कहा, “जब मैं यहां आया हूं तो बाबूजी हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन जो भीड़ देखी है वह बताती है कि बाबूजी आप लोगों के मन में जस का तस है.”

    ‘योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व की सरकार में सारे गुंडे भाग गए’
    उत्‍तर प्रदेश की कानून व्यवस्था की सराहना करते हुए शाह ने कहा, “2014 में मैं यहां प्रभारी बनकर आया तो यह बात आती थी कि सपा के गुंडे परेशान कर रहे हैं, तब कानून व्यवस्था इतनी खराब हो गई थी कि लोग अपनी बच्चियों को स्‍कूल और कॉलेज भेजने में कतरा रहे थे, लेकिन पांच साल में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व की सरकार में सारे गुंडे पलायन कर गये.”

    उन्होंने सपा सरकार में दंगे होने और योगी राज में विकास होने का दावा करते हुए कहा कि “अखिलेश जी, आपके पांच सालों में सात सौ से ज्यादा दंगे हुए थे लेकिन योगी जी के शासन में साढ़े चार साल में किसी की हिम्मत नहीं कि एक भी दंगा करे.”

    (इनपुट भाषा से भी)

    Tags: Akhilesh yadav, Amit shah, Assembly elections, BJP, UP Assembly Elections, UP elections

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर