हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड जिताने के बाद ही अमित शाह छोड़ेंगे भाजपा की कमान!

अमित शाह ने बीजेपी के क्षेत्रीय नेताओं की बैठक में यह भी कहा कि बीजेपी को अभी शिखर पर पहुंचना है. उन्होंने बीजेपी के अगले पड़ाव के तौर पर केरल और पश्चिम बंगाल को लक्ष्य बनाया है.

News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 11:16 PM IST
हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड जिताने के बाद ही अमित शाह छोड़ेंगे भाजपा की कमान!
अमित शाह साल के आखिरी में होने वाले तीन राज्यों के चुनावों तक बीजेपी अध्यक्ष बने रहेंगे (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 11:16 PM IST
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि भले ही पार्टी ने हालिया लोकसभा चुनाव में अब तक का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया हो लेकिन अभी शिखर पर पहुंचना बाकी है. उन्होंने पार्टी नेताओं से संगठन का नये क्षेत्रों में विस्तार करने तथा नए लोगों को पार्टी से जोड़ने के लिए भी कहा. इस मीटिंग से यह बात भी निकलती दिखी कि अमित शाह साल के आखिरी में होने वाले तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों तक पार्टी की कमान अपने ही हाथों में रखेंगे.

बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों और राज्यों से संगठन के महत्वपूर्ण प्रतिनिधियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए अमित शाह ने कहा कि केरल और पश्चिम बंगाल समेत अन्य राज्यों में सरकार बनाने पर पार्टी नयी ऊंचाइयों पर पहुंचेगी.



20 प्रतिशत सदस्यता बढ़ाने का दिया मंत्र
भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव ने संवाददाताओं को बताया कि अमित शाह ने पार्टी के सदस्यता अभियान को भी अंतिम रूप दिया. जल्द ही अभियान की शुरूआत होगी और इसका लक्ष्य सदस्यता में 20% वृद्धि रखा गया है. भूपेंद्र यादव ने कहा कि वर्तमान में भाजपा के 11 करोड़ सदस्य हैं और इसमें 20% वृद्धि का लक्ष्य होगा.

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान अभियान के प्रभारी होंगे. अगले कुछ दिनों में इस कार्यक्रम की घोषणा की जाएगी और इस प्रक्रिया के बाद पार्टी का सांगठनिक चुनाव होगा.

जहां नहीं मिली सफलता वहां जोड़े जाएंगे और कार्यकर्ता
पार्टी से जुड़े सूत्रों ने बताया कि भाजपा ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा जैसे राज्यों में बड़ी कामयाबी हासिल की, जबकि इन दोनों जगहों पर पार्टी पहले हाशिए पर थी. लेकिन, दक्षिण के तीन राज्यों- तमिलनाडु, केरल और आंध्रप्रदेश में एक भी सीट नहीं जीत पायी. पार्टी को वहां अपना विस्तार करना है और समाज के नए धड़े को जोड़ना पड़ेगा.
Loading...

विधानसभा चुनावों तक शाह के हाथों में रहेगी भाजपा की कमान
इस साल के अंत में तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों तक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की कमान मौजूदा अध्यक्ष अमित शाह के हाथों में बने रहने की उम्मीद है. शाह को केंद्रीय मंत्रिमंडल में बतौर गृहमंत्री शामिल किए जाने के बाद ऐसी चर्चाओं को बल मिला था कि अब पार्टी को उसका नया अध्यक्ष मिलने का रास्ता खुल गया है. पार्टी सूत्रों ने बताया कि जब तक पार्टी संगठन के पदों पर नया निर्वाचन नहीं होता तब तक मौजूदा पदाधिकारी अपने पदों पर बने रहेंगे. इस लिहाज से शाह के पार्टी अध्यक्ष के पद पर ही बने रहने की ही संभावना है.

उम्मीद की जा रही है कि भाजपा अगले कुछ दिनों में नए सदस्य बनाने का कार्यक्रम शुरू करेगी और पार्टी के नेताओं का कहना है कि यह काम पार्टी के संस्थापक सदस्य रहे विचारक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती छह जुलाई से शुरू हो सकता है और इसमें लंबा वक्त लगना तय है. जबकि इस साल के अंत तक तीन राज्यों हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड में विधानसभा चुनाव होने हैं.

साल 2014 में हरियाणा और महाराष्ट्र में अक्टूबर में चुनाव हुए थे तो झारखंड में 2014 के नवम्बर-दिसम्बर महीने में वोट डाले गए थे. शाह इन तीनों राज्यों के प्रमुख नेताओं के साथ चुनावी रणनीति संबंधी बैठक कर चुके हैं. भाजपा इन तीनों राज्यों में सत्ता में है.

यह भी पढ़ें: बीजेपी आखिर क्यों नहीं चुन पा रही है अपना नया अध्यक्ष?

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...