Home /News /nation /

आंध्रप्रदेश के कुर्नूल में अमोनिया रिसाव से मैनेजर की मौत, 4 लोग बचाए गए

आंध्रप्रदेश के कुर्नूल में अमोनिया रिसाव से मैनेजर की मौत, 4 लोग बचाए गए

गैस रिसने के कारण कंपनी के मैनेजर की मौत हो गई (सांकेतिक फोटो)

गैस रिसने के कारण कंपनी के मैनेजर की मौत हो गई (सांकेतिक फोटो)

जिलाधिकारी (District Collector) ने कहा है कि इंडस्ट्रियल प्लांट (Industrial Plant) के आसपास रहने वालों को कोई खतरा नहीं है और लोगों से चिंता न करने और घर में रहने की अपील की है.

    कुर्नूल. आंध्रप्रदेश (Andhra pradesh) के कुर्नूल जिले (Kurnool District) में शनिवार को एक इंडस्ट्रियल प्लांट (Industrial Plant) में अमोनिया गैस रिसाव (Ammonia Gas Leak) में कंपनी के एक अधिकारी की मौत हो गई. इस बात की जानकारी पुलिस ने दी. जानकारी के मुताबिक यह घटना जिले के नंदयाल कस्बे में एसपीवाई एग्रो इंडस्ट्रियल लिमिटेड (SPY Agro Industries Limited) में हुई.

    कंपनी के जनरल मैनेजर (Company general manager) श्रीनिवास राव की इस दुर्घटना में मौत हो गई. चार अन्य लोग जो उनके साथ ही घटनास्थल पर मौजूद थे, तुरंत वहां से बाहर की ओर भागे. बताया जा रहा है कि अब वे चारों सुरक्षित हैं. कुर्नूल के जिलाधिकारी (Kurnool District Collector) जी वीरापांडियन ने कहा कि दमकल विभाग के कर्मचारी (fire services personnel) गैस की लीक को रोकने की कोशिश कर रहे हैं.

    जिलाधिकारी ने कहा, "प्लांट के आसपास रहे वालों को चिंता करने की जरूरत नहीं"
    जिलाधिकारी ने कहा है कि प्लांट के आसपास रहने वालों को कोई खतरा नहीं है और लोगों से चिंता न करने और घर में रहने की अपील की है. इस प्लांट का मालिक पूर्व सांसद एसपीवाई रेड्डी (Former MP S.P.Y. Reddy) का परिवार है. शुक्रवार को प्लांट में यह दुर्घटना तब हुई जब एक पाइपलाइन से अमोनिया गैस का रिसाव होने लगा.

    यह भी पढ़ें: तमिलनाडु: जयराज और बेनिक्स की मौत ने पुलिसिया बर्बरता पर उठाए गंभीर सवाल

    विशाखापट्टनम में गैस लीक से 11 की हुई थी मौत
    इससे पहले मई के महीने में आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के विशाखापट्टनम जिले में पॉलिमर इंडस्ट्री (LG Polymers Industry) में गुरुवार को जहरीली गैस का रिसाव होने से 11 लोगों की मौत हो गई थी. जबकि करीब 1,000 लोगों का स्वास्थ्य इससे प्रभावित हुए थे. इस गैस रिसाव को लेकर पर्यावरणविदों ने सलाह दी थी कि  विशाखापट्टनम में जिस कारखाने से स्टाइरीन गैस का रिसाव हुआ, उसके आसपास के क्षेत्र से सभी लोगों को तत्काल हटाया जाना चाहिए. पर्यावरणविदों का कहना था कि यह गैस काफी घातक है और यह तुरंत तथा दीर्घावधि में लोगों के स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है.

    Tags: Andhra Pradesh, Death, District Magistrate, Fire brigade, Industrial units

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर