Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अमूल ने भारत के चीनी ऐप्लीकेशंस बैन करने पर बनाया डूडल, दिया ये मेसेज

    अमूल ने इस मुद्दे को लेकर अपने ट्विटर पर एक डूडल शेयर किया है.
    अमूल ने इस मुद्दे को लेकर अपने ट्विटर पर एक डूडल शेयर किया है.

    हाल ही में भारत सरकार ने 59 चीनी मोबाइल ऐप्लीकेशंस (Chinese Mobile Applications) पर पाबंदी लगा दी जिनमें कि भारत में बड़े स्तर पर इस्तेमाल की जाने वाली टिक-टॉक (TikTok), शीन (Shein), वीचैट (Wechat) जैसी ऐप्स को बैन कर दिया है जिसे लेकर अमूल (Amul) ने नया डूडल बनाया है.

    • Share this:
    नई दिल्ली. भारत (India) की जानी-मानी डेयरी कंपनी अमूल (Amul) समय-समय पर तमाम मुद्दों को लेकर डूडल (Doodle) भी बनाती है. इन डूडल्स के कैप्शन या उन पर लिखा संदेश समसामयिक हालातों पर बेहद की क्रियेटिव तरीके से तंज कसने या उन्हें याद करने के लिए लिखा जाता है. हाल ही में भारत सरकार ने 59 चीनी मोबाइल ऐप्लीकेशंस (Chinese Mobile Applications) पर पाबंदी लगा दी जिनमें कि भारत में बड़े स्तर पर इस्तेमाल की जाने वाली टिक-टॉक (TikTok), शीन (Shein), वीचैट (Wechat) जैसी ऐप्स को बैन कर दिया है जिसे लेकर अमूल ने नया डूडल बनाया है. भारत ने सोमवार को चीन से संबंधित 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसमें बेहद लोकप्रिय टिकटॉक और यूसी ब्राउजर (UC Browser) शामिल हैं. सरकार ने कहा कि ये ऐप्स देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा को लेकर पूर्वाग्रह से ग्रस्त हैं.

    अमूल ने इसी मुद्दे को लेकर अपने ट्विटर पर एक डूडल शेयर किया है. इस डूडल में अमूल की मैस्कॉट गर्ल रेफ्रिजिरेटर के सामने मक्खन लिए हुए दिख रही है. कैप्शन में लिखा है- अमूल टॉपिकल नई दिल्ली ने बैन की 59 चीनी ऐप्स. डूडल पर चीनी ऐप्स को निशाने पर लेते हुए लिखा है स्टिक विथ दिस स्टॉक. वीचैट ओवर टी. जिसका मतलब है कि इस बटर स्टिक का स्टॉक बनाए रहें. हम चाय पर बातें करेंगे.


    ऐप स्टोर से हटीं ऐप्स
    बता दें वीडियो शेयरिंग एप टिकटॉक मंगलवार को देश में बंद हो गया. इसे देश में गूगल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर से भी हटा दिया गया है. सरकार ने सोमवार को टिकटॉक सहित 59 चीनी एप पर प्रतिबंध लगा दिया. टिकटॉक के अलावा अन्य प्रतिबंधित एप की मौजूदा स्थिति के बारे में तत्काल कोई जानकारी नहीं उपलब्ध हो सकी है. कुछ उपयोक्ताओं के मुताबिक मंगलवार को कुछ समय तक वे टिकटॉक का उपयोग करने में सक्षम थे. देश में टिकटॉक के करीब 20 करोड़ उपयोक्ता थे.



    टिकटॉक खोलने पर एक संदेश सभी को दिखायी दे रहा है. संदेश में लिखा है, ‘‘ प्रिय उपयोक्ता, हम भारत सरकार के 59 एप पर प्रतिबंधों का पालन करने की प्रक्रिया में है. भारत में हमारे सभी उपयोक्ताओं की निजता और डेटा की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है.’’



    चीन को लगेगा झटका
    देश में टिकटॉक की वेबसाइट भी बंद हो गयी है. टिकटॉक देश में करीब 2,000 लोगों को रोजगार प्रदान करती है. बाइटडांस कंपनी की टिकटॉक एप के अलावा ई-वाणिज्य समूह अलीबाबा के मालिकाना हक वाली यूसी ब्राउजर, यूसी न्यूज एप, टैनसेंट होल्डिंग्स की वीचैट और बायदू इंक के मानचित्र और अनुवाद मंच पर भी प्रतिबंध लगा है.

    भारत में लगे इस प्रतिबंध से चीन की इंटरनेट कंपनियों को झटका लगेगा, क्योंकि भारत दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ता मोबाइल बाजार है. (भाषा के इनपुट सहित)
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज