हार्ट अटैक से ठीक पहले सुषमा स्वराज ने कुलभूषण जाधव के वकील से कहा था- कल आकर अपनी 1 रुपये की फीस ले जाना

हरीश साल्वे ने हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में कुलभूषण जाधव मामले में बतौर वकील पैरवी के लिए महज एक रुपये की फीस ली थी.

News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 8:30 AM IST
हार्ट अटैक से ठीक पहले सुषमा स्वराज ने कुलभूषण जाधव के वकील से कहा था- कल आकर अपनी 1 रुपये की फीस ले जाना
मौत से एक घंटे पहले सुषमा स्वराज ने जाधव के वकील से कही थी ये बात
News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 8:30 AM IST
पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की दिग्गज नेता रहीं सुषमा स्वराज पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले पर नजर बनाए हुए थीं. यही कारण है कि विदेश मंत्री न होने के बावजूद वह कुलभूषण जाधव के वकील हरीश साल्वे के साथ लगातार जुड़ी हुई थीं. बताया जाता है कि निधन से एक घंटे पहले उन्होंने हरीश साल्वे को उनकी 1 रुपये फीस देने के लिए बुलाया था. साल्वे ने हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में जाधव मामले की सुनवाई के दौरान भारत का प्रतिनिधित्व 1 रुपये की फीस पर किया था.

सुषमा स्वराज के निधन के बाद हरीश साल्वे ने एक टीवी चैनल से बातचीत में बताया कि सुषमा स्वराज ने उनसे करीब एक घंटे पहले ही बात की थी. उन्होंने बताया कि '8:50 बजे पूर्व विदेश मंत्री से उनकी बात हुई थी. यह बहुत ही भावनात्मक बातचीत थी. फोन पर सुषमा स्वराज ने कहा, आओ और मुझसे मिलो. जो केस आपने जीता उसके लिए मुझे आपको आपका एक रुपया देना है. मैंने कहा कि बेशक मुझे वह कीमती फीस लेने के लिए आना है. उन्होंने कहा कि कल 6 बजे आना.'

BJP, india news, Ministry Of Foreign Affairs, Modi government, Sushma swaraj,
कुलभूषण जाधव के वकील हरीश साल्वे अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में अपनी बात रखते हुए.


गौरतलब है कि पाकिस्तान ने जाधव को मार्च 2016 में पकड़ा था और अप्रैल 2017 में पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने उन्हें भारतीय जासूस और आतंकवादी बताकर मौत की सजा सुनाई थी. इस मामले में पाकिस्तान भारतीय अधिकारियों को उनसे मिलने की अनुमति भी नहीं दे रहा है. पाकिस्तान की सैन्य अदालत में जाधव को मौत की सजा सुनाए जाने के बाद भारत ने आईसीजे में मामला उठाया था.


Loading...



आईसीजे ने मामले की सुनवाई करते हुए पाकिस्तान को जाधव की फांसी की सजा पर रोक बरकरार रखने और उन्हें राजनयिक पहुंच देने का निर्देश दिया था. कुलभूषण मामले पर भारत को आईसीजे से मिली जीत पर सुषमा स्वराज ने खुशी जाहिर की थी.



इस दौरान उन्होंने ट्वीट किया कि जाधव मामले में मैं अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले का स्वागत करती हूं. यह भारत के लिए एक महान जीत है. उन्होंने मामले को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में ले जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी शुक्रिया अदा किया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 7, 2019, 7:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...