लाइव टीवी

Delhi Fire: AAP नेता संजय सिंह बोले- MCD की थी जिम्मेदारी, कैसे चलने दी फैक्ट्री

News18Hindi
Updated: December 8, 2019, 5:01 PM IST
Delhi Fire: AAP नेता संजय सिंह बोले- MCD की थी जिम्मेदारी, कैसे चलने दी फैक्ट्री
दिल्ली स्थित अनाजमंडी में रविवार को लगी आग में 43 लोगों की मौत हो गई

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी में(Anaj Mandi fire) चार मंजिला फैक्ट्री में रविवार सुबह लगी भीषण आग में 43 श्रमिक मारे गए. उसके बाद राजनीतिक आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 8, 2019, 5:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के बीचोंबीच रानी झांसी मार्ग पर स्थित अनाजमंडी (Anaj Mandi fire) में रविवार को लगी आग में 43 लोगों की मौत पर कर्नाटक के नेताओं ने शोक व्यक्त किया. वहीं एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप भी शुरू कर दिया है. इस हादसे को लेकर आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) ने भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) पर आरोप लगाया है. उन्होंने इस हादसे को लेकर दिल्ली नगर निगम पर सवाल खड़े किए हैं.

आप नेता संजय सिंह ने कहा कि- 'अगर कोई फैक्ट्री किसी घर में अवैध रूप से चल रही थी, तो उसे बंद करने की जिम्मेदारी दिल्ली नगर निगम की थी. एमसीडी (MCD) ने फैक्ट्री को कैसे चलने दिया? दिल्ली फायर सर्विस ने स्पष्ट किया है कि उसने कारखाने को अनापत्ति प्रमाणपत्र नहीं दिया.'



आपको बता दें इस हादसे के बाद भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी, केन्द्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप पुरी के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. तिवारी ने कहा कि क्षेत्र में बिजली के तार लटक रहे हैं लेकिन कई शिकायतों के बाद भी सरकारी एजेंसियों ने कोई कार्रवाई नहीं की.

वहीं कांग्रेस ने इस घटना के लिए आम आदमी पार्टी (आप) सरकार और भाजपा के नेतृत्व वाले नगर निगमों को जिम्मेदार ठहराया है.

कांग्रेस ने आप को घेरा
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने कहा, ‘केजरीवाल सरकार इसके लिए जिम्मेदार है. नगर निगम भी भाजपा के तहत आते हैं. वे भी इसके लिए उतने ही जिम्मेदार हैं.’’ तिवारी ने भाजपा की ओर से पीड़ितों के परिवारों के लिए पांच-पांच लाख रुपये और घायलों को इलाज के लिए 25-25 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की.पार्टी ने इस हादसे के मद्देनजर आज दिन के अपने सभी कार्यक्रमों को भी रद्द कर दिया. पुरी ने कहा कि वह दुख की इस घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ है.

भाजपा ने कहा- बुलाएं विधानसभा का आपात सत्र
दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेन्द्र गुप्ता ने मांग की कि केजरीवाल सरकार को इस तरह की घटनाओं को रोकने के तरीकों पर चर्चा करने के लिए विधानसभा का एक आपात सत्र बुलाना चाहिए. भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि यह दिल्ली सरकार की जिम्मेदारी है कि वह आवासीय क्षेत्रों में चल रहे अवैध कारखानों के खिलाफ कार्रवाई करे और इस तरह की घटनाओं को रोके.

उन्होंने कहा, ‘यह अब एक आम बात हो गई है. ऐसी घटनाएं होती हैं, जांच की जाती है लेकिन सरकार कुछ नहीं करती है. आवासीय क्षेत्रों में चलने वाले कारखानों को वैकल्पिक स्थानों पर भूखंड प्रदान किए जाने हैं, लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया.’ बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने इस हादसे के लिए दिल्ली के बिजली विभाग को जिम्मेदार ठहराया.

(भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें-
Delhi Fire: फायरमैन राजेश शुक्ला ने फैक्ट्री में फंसे 11 लोगों की जान बचाई

Delhi Fire: फरिश्‍ता बनकर आया यह बच्चा, ऐसे बचाई लोगों की जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2019, 4:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर