आनंद महिंद्रा ने जापान को दी 'मुंबई मॉडल' अपनाने की सलाह, जानें लोग क्यों भड़के

आनंद महिंद्रा के इस ट्वीट को लेकर कई लोगों ने जमकर तारीफ की है.

आनंद महिंद्रा के इस ट्वीट को लेकर कई लोगों ने जमकर तारीफ की है.

Anand Mahindra Tweets: महिंद्रा के इस ट्वीट को लेकर कई लोगों ने जमकर तारीफ की है. यूजर्स कह रहे हैं कि आखिरकार कोई तो भारत (India) की आलोचना के खिलाफ बोल रहा है. यह इस वक्त की जरूरत है.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) की पहली लहर (First Wave) में संक्रमण पर काबू पाने वाले शुरुआती देशों में जापान (Japan) का नाम भी है. लेकिन अब यहां हालात बिगड़ते जा रहे हैं. ओसाका में मरीजों के इलाज के लिए स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की कमी की खबरें सामने आ रही हैं. ऐसे में भारतीय उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने 'भारत की आलोचना' करने वाले लोगों को शांत रहने और जापान को 'मुंबई मॉडल' (Mumbai Model) फॉलो करने की सलाह दी है. हालांकि, इस बार कई यूजर्स ने इस ट्वीट को लेकर महिंद्रा पर निशाना भी साधा है.

सोशल मीडिया पर खासे एक्टिव रहने वाले आनंद महिंद्रा ने जापानी मीडिया की एक खबर शेयर की थी. साथ ही लिखा था, 'कोविड के खिलाफ लड़ाई और हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में जापानी मॉडल की चाह रखी गई थी. लेकिन हां अब कोई सुरक्षित नहीं है. भारत की आलोचना बंद होनी चाहिए और हमें यह समझना होगा कि हमें दुनिया को एक साथ मिलकर सुधारना है. ओसाका को मुंबई मॉडल पर विचार करना चाहिए.'

तारीफ और विरोध दोनों जारी

महिंद्रा के इस ट्वीट को लेकर कई लोगों ने जमकर तारीफ की है. यूजर्स कह रहे हैं कि आखिरकार कोई तो भारत की आलोचना के खिलाफ बोल रहा है. यह इस वक्त की जरूरत है. वहीं, कुछ यूजर्स ने महिंद्रा के ट्वीट को गलत बताया है. लोगों का कहना है कि उद्योगपति ने सरकार और देश की समान बताया है. जबकि, वे सरकार की आलोचना कर रहे हैं.


मुंबई मॉडल की हुई थी सराहना

पहली लहर से सीखने के बाद मुंबई में जिम्मेदारों ने दूसरी लहर से पहले ही काफी तैयारियां कर ली थीं. मुंबई में बिस्तर, ऑक्सीजन सप्लाई, स्टोरेज सुविधा की व्यवस्था को और बेहतर बनाया गया था. अधिकारियों ने सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ कुछ निजी अस्पतालों में भी सुधार किया था. इस दौरान कोविड-19 के मरीजों की निगरानी के लिए वॉर रूम तैयार करने जैसे उपाय किए गए थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज