अंग्रेजी के इस शब्द को बैन कराना चाहते हैं आनंद महिंद्रा, लोगों ने कहा- बिल्कुल

आनंद महिंंद्रा
आनंद महिंंद्रा

कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान यह शब्द बहुत ज्यादा प्रचलन में आ गया. हालांकि ऐसा लग रहा है मानों आनंद महिंद्रा को काम करने यह तरीका अच्छा नहीं लग रहा.

  • Share this:
नई दिल्ली. उद्योगपति आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) अक्सर अपने ट्वीट्स को लेकर सुर्खियों में रहते हैं. बीते दिनों उन्होंने एक ट्वीट किया, जिसमें वेबिनार शब्द का इस्तेमाल किया था. बता दें वेबिनार का मतलब है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या वीडियो के जरिये सेमिनार या मीटिंग में शामिल होंना. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान यह शब्द बहुत ज्यादा प्रचलन में आ गया. हालांकि ऐसा लग रहा है मानों आनंद महिंद्रा को काम करने यह तरीका अच्छा नहीं लग रहा है.

महिंद्रा ने एक ट्वीट के जरिए अपनी बात सबके सामने रखी. उन्होंने लिखा- अगर मुझे फिर से एक और वेबिनार के लिए आमंत्रण मिला तो मैं सच में परेशान हो जाऊंगा. क्या इस शब्द को डिक्शनरी से हटाने के लिए याचिका दायर हो सकती है?'
महिंद्रा के इस ट्वीट पर लोगों ने खूब रिएक्शन दिये. एक यूजर ने लिखा सच में आजकल कोविड-19 से ज्यादा वेबिनार से डर लगता है. इससे बेहतर था ऑफिस जाकर काम कर लिया जाए.उद्योगपति के इस ट्वीट के बाद लोग इसकी तुलना, स्वामीनार, चारमीनार सरीखे शब्दों से भी करने लगे. एक यूजर ने लिखा- चार लोगों का एक वेबिनार चारमीनार हो जाएगा.

महिन्द्रा ने इसी से जुड़ा एक और ट्वीट कर कहा- 'वेबिनार' शब्द पर मेरे झुंझलाहट को कम करने के लिए 'मेरे परिवार ने और अधिक अच्छे शब्द सुझाए... चेन्नई के एक सज्जन ने कहा वहां से किया जाने वाला वेबिनार 'वेबिनारायण 'होगा. गुरु द्वारावेबिनार एक 'स्वामीनार' होगा. अधिक विचारों का स्वागत है.'



महिंद्रा के इस ट्वीट पर कई लोगों ने अपनी सहमति दर्ज कराई और कहा कि वाकई इस शब्द से उबन होने लगी है. जरूरत है कि इसे बैन कर दिया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज