Assembly Banner 2021

कांग्रेस में कलह : आनंद शर्मा के बदले सुर! कहा- नेतृत्व से शिकायत नहीं, पार्टी जहां कहेगी प्रचार करेंगे

आनंद शर्मा ने सोमवार को ट्वीट कर बंगाल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस-लेफ्ट-आईएसएफ के गठबंधन पर सवाल उठाए थे. ANI

आनंद शर्मा ने सोमवार को ट्वीट कर बंगाल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस-लेफ्ट-आईएसएफ के गठबंधन पर सवाल उठाए थे. ANI

Anand Sharma on G-23: केंद्रीय मंत्री के तौर पर जिम्मेदारी निभा चुके शर्मा को गांधी परिवार का खास माना जाता है. लंबे समय से कांग्रेस के साथ जुड़े शर्मा ने संजय, राजीव गांधी (Rajeev Gandhi) के साथ काम किया. वे उनके करीबियों में गिने जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 10:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पार्टी नेतृत्व से असंतुष्ट कांग्रेस (Congress) के दिग्गज नेता एकजुट हुए हैं, जिसे G-23 समूह कहा जा रहा है. हालांकि, इस नाम को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा (Anand Sharma) ने साफ कर दिया है, वो पार्टी के खिलाफ कोई काम नहीं कर रहे हैं. वहीं, उन्होंने कहा है कि हम जो कर रहे हैं उसका सही मतलब निकाला जाए. शर्मा सोमवार को चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल (West Bengal) में कांग्रेस-आईएसएफ (Congress-ISF) के एक साथ आने पर नाराजगी जाहिर कर चुके हैं.

'जहां बोलेंगे वहां प्रचार करेंगे'
इस साल पांच राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों- असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में चुनाव होने हैं. कहा जा रहा था कि बगावती नेताओं का कथित समूह चुनाव के नतीजों पर नजर बनाए हुए हैं. हालांकि, समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में उन्होंने कहा 'आगामी विधानसभा चुनाव में, हम कांग्रेस उम्मीदवारों को शुभकामनाएं देते हैं. हमें जहां भी कांग्रेसी के तौर पर प्रचार करने के लिए कहा जाएगा, हम करेंगे.'

Youtube Video

यह भी पढ़ें: कांग्रेस में घमासान, आनंद शर्मा के बगावती तेवर जारी, अब कहा- मैंने केवल सवाल उठाए थे



साथ ही उन्होंने कहा, 'हमारी कुछ चिंताएं हैं, जो तथ्य हैं. हम जो भी कह रहे हैं, उसका सही मतलब निकाला जाना चाहिए.' शर्मा ने कहा, 'हम पार्टी को मजबूत करना चाहते हैं. हम एक कांग्रेस के लिए काम कर रहे हैं, हम ऐसा कुछ नहीं चाहते, जो पार्टी को कमजोर करे.' खास बात है कि नाराज नेताओं ने पार्टी नेतृत्व पर भी सवाल उठाए थे. इस पर शर्मा ने कहा, 'बगावत किसके खिलाफ. सोनिया गांधी के नेतृत्व पर हम सब विश्वास करते हैं. आज तक मैंने पार्टी नेतृत्व के खिलाफ टिप्पणी नहीं की.'

गांधी परिवार के करीबी माने जाते हैं शर्मा
केंद्रीय मंत्री के तौर पर जिम्मेदारी निभा चुके शर्मा को गांधी परिवार का खास माना जाता है. लंबे समय से कांग्रेस के साथ जुड़े शर्मा ने संजय, राजीव गांधी के साथ काम किया. वो उनके करीबियों में गिने जाते हैं. वहीं, सोनिया गांधी के भी खास लोगों में शुमार हैं. खास बात है कि हाल ही में कांग्रेस ने मल्लिकार्जुन खड़गे को विपक्ष के मुख्य नेता की जिम्मेदारी दी थी. माना जा रहा है कि ऐसे में शर्मा को नजरअंदाज किया जाना पसंद नहीं आया. खड़गे राहुल गांधी के करीबी माने जाते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज