अंडमान निकोबार में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 5.0 थी तीव्रता

अंडमान निकोबार में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 5.0 थी तीव्रता
अंडमान और निकोबार में भूकंप. सांकेतिक तस्वीर.

Earthquake in Andaman and Nicobar Island: अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में शुक्रवार सुबह भी 4.8 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया था. अधिकारियों ने बताया कि तत्काल किसी के हताहत होने या संपत्ति के नुकसान की खबर नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 17, 2020, 11:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. भारत के किसी न किसी राज्‍य में रोजाना भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. इसी कड़ी में केंद्रशासित प्रदेश अंडमान और निकोबार में शुक्रवार देर शाम भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. रिक्‍टर स्‍केल पर भूकंप की तीव्रता 5.0 मापी गई. नैशनल सेंटर फॉर सिसमोलॉजी ने इसकी जानकारी दी. अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में शुक्रवार सुबह भी 4.8 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया था. अधिकारियों ने बताया कि तत्काल किसी के हताहत होने या संपत्ति के नुकसान की खबर नहीं है. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार भूकंप 10 बजकर 31 मिनट पर आया और इसका केंद्र पोर्ट ब्लेयर से 250 किलोमीटर पूर्व में था. भूकंप की गहराई 10 किलोमीटर थी.

इससे पहले असम में गुरुवार को कुछ घंटों के अंतराल में धरती दो बार हिली और इसके साथ ही पड़ोसी मेघालय में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए. हालांकि, इसमें जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार भूकंप का पहला झटका बराक घाटी के करीमगंज में 18 किलोमीटर की गहराई पर केंद्रित था जिसकी तीव्रता 4.1 थी. यह सुबह 7:57 बजे महसूस किया गया. अधिकारियों ने बताया कि शिलांग और पश्चिमी गारो हिल्स क्षेत्र सहित समूचे मेघालय में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए. असम में भूकंप का दूसरा झटका अपराह्न 1.09 बजे आया जिसकी तीव्रता 2.6 थी. यह झटका पश्चिमी मेघालय में भी महसूस किया गया.

अधिकारियों ने बताया कि भूकंप की वजह से जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. देश का पूर्वोत्तर क्षेत्र उच्च भूकंपीय क्षेत्र की श्रेणी में आता है जहां भूकंप प्राय: आता रहता है. पिछले एक महीने में क्षेत्र में कई बार भूकंप के झटके आए हैं जिनमें से अधिकतर का केंद्र पश्चिमी मिजोरम था। इससे चंफाई जिले में नुकसान भी हुआ.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज