लाइव टीवी

जगन मोहन रेड्डी के कैंप कार्यालय और आवास पर 16 करोड़ किए जा रहे खर्च, विपक्ष हुआ हमलावर

News18Hindi
Updated: November 7, 2019, 5:33 PM IST
जगन मोहन रेड्डी के कैंप कार्यालय और आवास पर 16 करोड़ किए जा रहे खर्च, विपक्ष हुआ हमलावर
आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी के सरकारी आवास में एल्‍युमिनियम की खिड़कियां और दरवाजे लगाने के लिए 73 लाख रुपये मंजूर किए गए हैं.

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) की पिछली सरकार की कई जनकल्‍याण योजनाओं (Welfare Schemes) के नाम अपने पिता वाईएस राजशेखर रेड्डी (YSR Reddy) के नाम पर बदलने को लेकर मौजूदा मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी (CM Jaganmohan Reddy) की काफी आलोचना हो रही है. वहीं, सीएम ने ग्राम सचिवालय (Village Secretariat) की इमारत का रंग भी वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) के झंडे के रंग में करवा दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2019, 5:33 PM IST
  • Share this:
एस. अहमद

अमरावती. आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) सरकार ने मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी (CM Jaganmohan Reddy) के कैंप कार्यालय (Camp Office) और आवास (Residence) पर करीब 16 करोड़ रुपये खर्च डाले. 30 मई को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने वाले जगन के आवास की खिड़कियों (Windows) पर ही 73 लाख रुपये खर्च कर डाले हैं. जगन ने पद संभालने के एक महीने के भीतर 25 जून को ही अपने आवास की ओर जाने वाली सड़क को चौड़ा करने का सरकारी आदेश (GO) दे दिया था. विजयवाड़ा के नजदीक तदेपल्‍ली गांव की इस सड़क को चौड़ा करने के लिए 5 करोड़ रुपये मंजूर किए गए. इसके अगले ही दिन उनके आवास के आसपास बैरिकेडिंग, गार्ड रूम, पुलिस बैरक, सुरक्षा चौकियां और हेलीपैड बनाने का सरकारी आदेश जारी किया गया. इसकी अनुमानित लागत 1.89 लाख रुपये है.

प्रजा वेदिका हॉल बनवाने का दिया आदेश
जगन सरकार ने 9 जुलाई को बिजली आपूर्ति सेवा (Electrical Services) के रखरखाव (Maintenance) के लिए 8.5 लाख रुपये जारी करने का आदेश दिया. इसके बाद 22 जुलाई को हैदराबाद में सीएम आवास के सुरक्षा इंतजामों (Security Arrangements) के लिए 24.5 लाख रुपये आवंटित कर दिए गए. वहीं, 20 अगस्‍त को जन शिकायतें (Public Grievances) सुनने के लिए प्रजा वेदिका (Praja Vedika) नाम से एक हॉल बनाने के लिए 2.5 लाख रुपये मंजूर किए गए. बता दें कि आंध्र प्रदेश सरकार के आदेश पर टीडीपी (TDP) प्रमुख चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) का बनवाया कॉन्‍फ्रेंस हॉल जून, 2019 में अवैध बताकर गिरा दिया गया. इसे बनाने में 8 रुपये खर्च किए गए थे.

15.79 करोड़ खर्च की दी जा चुकी है मंजूरी
मुख्‍यमंत्री आवास (CM Residence) में एल्‍युमिनियम की खिड़कियां और दरवाजे (Doors) लगाने के लिए 73 लाख रुपये मंजूर (Approved) किए गए. कुछ अन्‍य खर्चों को मिलाकर आंध्र प्रदेश सरकार अब तक मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी के आवास और कार्यालय पर 15.79 करोड़ रुपये खर्च की मंजूरी दे चुकी है. बता दें कि जगन का कैंप कार्यालय और आवास हाल ही में बनाए गए हैं. उन्‍होंने फरवरी, 2019 में ही गृह पूजन किया था. इस पूरे इंतजाम के बिलों (Bills) ने विपक्षी दल टीडीपी को सरकार पर हमला करने का हथियार उपलब्‍ध करा दिया. चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि यह सारा खर्च सरकारी खजाने (Exchequer) से किया जा रहा है. यह आम लोगों के टैक्‍स का दुरुपयोग है.



नारा लोकेश ने जगन मोहन को ढोंगी कहा
चंद्रबाबू नायडू के बेटे नारा लोकेश (Nara Lokesh) ने भी सीएम जगन मोहन रेड्डी पर तीखा हमला किया. उन्‍होंने कहा कि जगन एक तरफ वेतन (Salary) में सिर्फ 1 रुपया लेने का ढोंग कर रहे हैं और दूसरी तरफ शान-ओ-शौकत पर खूब खर्च कर रहे हैं. इसके अलावा पिछली सरकार की जनकल्‍याण योजनाओं (Welfare Schemes) के नाम अपने पिता वाईएसआर रेड्डी (YSR Reddy) के नाम पर करने के कारण भी जगन मोहन की जमकर आलोचना हो रही है. वहीं, उन्‍होंने ग्राम सचिवालय (Village Secretariat) का रंग अपनी पार्टी वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) के झंडे के रंग में करवाकर विपक्ष को हमले का मौका दे दिया है.

ये भी पढ़ें:

दिल्‍ली में लोगों ने जुलाई 2017 से सिर्फ 2 दिन ली स्‍वच्‍छ हवा में सांस

सुप्रीम कोर्ट ने कोयंबटूर रेप-मर्डर केस के दोषी की फांसी की सजा बरकरार रखी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 5:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...